Farrukhabad : आक्रोशित पत्रकारों ने महेंद्र गुप्ता के खिलाफ एसपी को दिया प्रार्थना पत्र

जनपद के पत्रकारों ने पत्रकार एकता शक्ति संगठन के बैनर तले एकजुट होकर शहर के चरित्रहीन डॉक्टर महेंद्र गुप्ता के खिलाफ पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र दिया।

फर्रुखाबाद। जनपद के पत्रकारों ने पत्रकार एकता शक्ति संगठन के बैनर तले एकजुट होकर शहर के चरित्रहीन डॉक्टर महेंद्र गुप्ता के खिलाफ पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र दिया।

Journalist

राजीव शुक्ला के नेतृत्व में की एसपी को दिया प्रार्थना पत्र

सोमवार को पत्रकार एकता शक्ति संगठन के अध्यक्ष राजीव शुक्ला के नेतृत्व में व डॉ महेंद्र गुप्ता से प्रताड़ित पत्रकार मनीष श्रीवास्तव के समर्थक में आधा सैकड़ा पत्रकार एकत्र होकर डॉक्टर महेंद्र गुप्ता के खिलाफ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा को प्रार्थना पत्र दिया। साथ ही राजीव शुक्ला के नेतृत्व में प्रार्थना पत्र देने से पहले पत्रकार एकता संगठन शक्ति की पूरी टीम की तरफ से पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा को फूलों का गुलदस्ता भेंट किया।

पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक को अपनी आपबीती सुनाई

इसके बाद पत्रकारों ने पुलिस अधीक्षक को अपनी आपबीती सुनाई। आपको बता दें कि बीते कई दिनों से कायमगंज जटवारा निवासी महेंद्र गुप्ता एक कर्मठ ईमानदार पत्रकार मनीष श्रीवास्तव को लगातार ब्लैकमेल कर रहा है और जान से मारने की धमकी भी दे रहा है।

इसी को लेकर जनपद के पत्रकारों में भारी आक्रोश व्याप्त है शनिवार को भी पत्रकार एकता के बैनर तले कई पत्रकार इकट्ठा होकर डीएम ऑफिस व पुलिस अधीक्षक दरबार पहुंचे थे लेकिन थाना दिवस के चलते मुलाकात ना हो सकी लेकिन सोमवार को पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र देकर डॉ महेंद्र गुप्ता के विरुद्ध कई पत्रकारों ने एक सुर में कार्यवाही की मांग की है।

अशोक कुमार मीणा ने भी आश्वासन दिया

शहर के तेजतर्रार पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा ने भी आश्वासन दिया है कि जब तक जनपद में मैं हूं किसी पत्रकार पर फर्जी मुकदमा नहीं लिखने दिया जाएगा पुलिस अधीक्षक ने यह भी कहा कि मामले की जांच की जाएगी महेंद्र गुप्ता दोषी पाए गए तो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी। पुलिस अधीक्षक के आश्वासन से मायूस पत्रकारों के चेहरे खिल उठे।

पत्रकारों ने की एसपी की तारीफ

वही पत्रकारों ने कहा की हम पत्रकारों को ऐसे ही पुलिस अधीक्षक की जरूरत थी। पुलिस अधीक्षक महोदय अशोक कुमार मीणा जी के बात करने के तरीके से सारे पत्रकार काफी प्रभावित हुए पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा ने पीड़ित पत्रकार मनीष श्रीवास्तव को छोटे भाई की तरह कई बातें समझाई जिस पर पत्रकार मनीष में अमल किया और पुलिस अधीक्षक महोदय का ह्रदय से आभार व्यक्त किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *