Jyotish Tips: जानिए वास्तु शास्त्र में पौधों का महत्व

नई दिल्ली: वास्तु शास्त्र में पौधों का कितना महत्व है, अगर आप हमारी वेबसाइट को फॉलो करेंगे तो आपको इसकी जानकारी नहीं होगी. क्योंकि यहां समय-समय पर हम आपको इन सभी चीजों के बारे में बताते रहे हैं। इसी बीच एक बार फिर हम आपके लिए लेकर आए हैं पौधों से जुड़ी जानकारी। तो चलिए बिना देर किए हम आपको बताते हैं कि वास्तु में पौधों को रखने का सही स्थान और दिशा क्या है। जिससे इसका शुभ प्रभाव प्राप्त किया जा सके।

वास्तु शास्त्र में अच्छी तरह से बताया गया है कि घर में रखी अन्य चीजें ही नहीं बल्कि पौधे भी घर के सदस्यों को अपनी सकारात्मक और नकारात्मक ऊर्जा से प्रभावित करते हैं। लेकिन यह जानना ज्यादा जरूरी है कि कौन सा पौधा कहां होना चाहिए ताकि यह समझा जा सके कि इसका अच्छा और बुरा प्रभाव कब पड़ता है। सबसे पहले बात करते हैं तुलसी की। जैसा कि सनातन धर्म से जुड़े सभी लोगों को पता होना चाहिए कि तुलसी के पौधे को एक चमत्कारी पौधा माना जाता है। इस पौधे में दैवीय शक्तियां हैं। ऐसा माना जाता है कि इसे घर में लगाने से घर में पैसों की कमी नहीं होती है। वास्तु के अनुसार इसे हमेशा घर के आंगन में लगाना चाहिए।

आइए जानते हैं पौधों के लिए वास्तु टिप्स – घर के मुख्य द्वार पर बांस का पौधा लगाने से घर में धन की वृद्धि होती है। कहा जाता है कि जिस प्रकार यह पौधा बढ़ता है, उसी प्रकार घर में भी धन की वृद्धि होती है। तो वहीं अगर यह पौधा सूख जाए तो इसके विपरीत घर में धन संबंधी परेशानियां आने लगती हैं। घर में जेठ का पौधा लगाना भी बहुत अच्छा और शुभ माना जाता है। कहा जाता है कि जीजाजी का पौधा धन को चुंबक की तरह अपनी ओर आकर्षित करता है। जिससे घर की तिजोरी हमेशा शुभ प्रभाव से भरी रहती है। इस बात का ध्यान रखें कि यह पौधा हमेशा घर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में लगाना चाहिए।

इसके अलावा घर में मनी प्लांट लगाना जीवन में धन की वृद्धि के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि जिनके घर में मनी प्लांट का पौधा दक्षिण-पूर्व दिशा में होता है, उनके घर में कभी भी धन की कमी नहीं होती है। इन सबके अलावा घर में मिट्टी के गमले में सूरजमुखी का पौधा लगाएं। इसे दक्षिण-पश्चिम कोने यानी दक्षिण-पश्चिम दिशा में रखें। इससे धन में वृद्धि होती है।