Aloe vera किस प्रकार मधुमेह को नियंत्रित करने में सहायक, जानें कैसे

आज कल तो बीमारी का कोई मेल नहीं कब क्या हो जाए कुछ नया नहीं हैं लोग तरह-तरह की बिमारियों से परेशान हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं

आज कल तो बीमारी का कोई मेल नहीं कब क्या हो जाए, कुछ नया नहीं हैं लोग तरह- तरह की बिमारियों से परेशान हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि एलोवेरा (Aloe vera) डायबिटीज़ के मरीज़ों के लिए बहुत फायदेमंद होता हैं।

Aloe vera कैसे करता है डायबिटीज़ मरीज़ो की मदद –

कई अध्ययनों के अनुसार, एलोवेरा (Aloe vera) जूस का नियमित सेवन डायबिटीज़ के मरीज़ों के ब्लड शुगर स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है। रिसर्चकर्ताओं ने एलोवेरा पर किए गये रिसर्च में पाया कि इसमें हाइपोग्लाइसेमिक (ग्लूकोज को कम करने वाला) होता है। इसके अलावा एलोवेरा में अन्य यौगिक भी होते हैं, जैसे हाइड्रोफिलिक फाइबर, ग्लूकोमानन और फाइटोस्टेरॉल, जो ब्लड शुगर को कम करने में मदद कर सकते हैं।

Aloe vera

डायबिटीज़ में एलोवेरा का उपयोग कैसे करें-

डायबिटीज़ के लिए एलोवेरा (Aloe vera) का उपयोग जूस के ज़रिए किया जा सकता है। वैसे बाज़ार में भी कई तरह के एलोवेरा जूस मिल जाते हैं, लेकिन बेहतर यही है कि ताज़ा एलोवेरा जूस का ही इस्तेमाल करें। आप घर के लिए एक एलोवेरा का पौधा खरीद सकते हैं और इसके ताज़ा जूस को इस्तेमाल कर सकते हैं।

घर पर ऐसे बनाएं एलोवेरा (Aloe vera) जूस-

  • इसके लिए आपको ज़रूरत पड़ेगी एक एलोवेरा (Aloe vera) के पत्ते और पानी की।
  • सबसे पहले एलोवेरा के पत्ते को धोएं और फिर बीच से काटकर उसका जेल अलग कर लें।
  • ध्यान रखें कि पत्ते में मौजूद लैटेक्स (एक पीले रंग की परत) एलोवेरा जेल में न मिले।
  • अब जूस बनाने के लिए दो से तीन चम्मच एलोवेरा जेल में थोड़ा पानी डालकर ब्लेंड करें।
  • जब इसका जूस बन जाए, तो इसे ग्लास में निकाल लें। इस जूस का स्वाद बढ़ाने के लिए आप इसमें नींबू, अदरक का रस या आंवले का रस मिला सकते हैं।

Diabetes के मरीज भी खा सकते हैं मीठा, जानें किन-किन चीजों का कर सकते हैं सेवन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *