जानिए क्‍यों बढ़ रहे कोरोना वायरस के मरीज, ये हैं तीन बड़े कारण

नई दिल्ली॥ हिंदुस्तान में कोविड-19 के केस 1,06,750 से अधिक हो गए हैं। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय (MoHFW) ने बुधवार सुबह जो आंकड़े जारी किए, उसके अनुसार, बीते 24 घंटों में 5,611 नए मामले आए हैं। एक दिन में कोविड-19 मामले सामने आने का ये नया रेकॉर्ड है। रविवार के बाद से ही, प्रतिदिन 5 हजार से अधिक नए मामलों का पता चल रहा है। लॉकडाउन के बाद भी, मामले इतनी तेजी से क्‍यों बढ़ रहे हैं? इसकी मुख्‍य रूप से 3 बड़े कारण हैं।

  • 1- कोविड-19 के नए केसेज के पीछे हिंदुस्तान की बढ़ी टेस्टिंग क्षमता भी है। हिंदुस्तान रोज टेस्‍ट्स की संख्‍या बढ़ा रहा है। अब यह संख्‍या डेली एक लाख के पार हो गई है। एक्‍सपर्ट्स ये बात पहले से कहते आ रहे हैं कि जितनी ज्‍यादा टेस्टिंग होगी, उतने अधिक मामले सामने आएंगे। ऐसा इसलिए क्‍योंकि ज्यादातर संक्रमित मरीज एसिम्‍प्‍टोमेटिक है यानी उनमें कोरोना के लक्षण नहीं दिखते। उन्‍हें कोरोना है इसका पता केवल टेस्‍ट से लगता है। लेकिन इस दौरान वह इन्‍फेक्‍शन तो फैला ही सकते हैं। इसीलिए साइंटिस्‍ट्स और एक्‍सपर्ट्स बार-बार टेस्‍ट्स बढ़ाने की डिमांड करते हैं।
  • 2- नए मामले तेजी से बढ़ने के पीछे लॉकडाउन में दी गई छूट भी एक बड़ी वजह है। बीते कुछ दिनों से बड़े पैमाने पर लोगों की आवाजाही हुई है। प्रवासी मजदूर अपने राज्‍य पहुंच रहे हैं। इससे नई आबादी में कोविड-19 का संक्रमण फैला है। बिहार और ओडिशा जैसे राज्‍यों का डेटा देखकर ये बात साफ पता चलती है जहां प्रवासियों के पहुंचने पर केसेज की संख्‍या अचानक से बढ़ने लगी है।

पढि़ए-जिस मुस्लिम देश ने कर्ज देकर मदद की, उसे कोस रहा पाकिस्तान?

  • 3- प्रति दिन नए मामले सामने आने की एक वजह निरंतर बढ़ता बेसलोड है। बड़े बेसलोड से रोज भारी संख्‍या में नए इन्‍फेक्‍शंस सामने आएंगे, चाहे सर्ज हो या ना हो। ऐसे में नए इन्‍फेक्‍शंस की संख्‍या तो निरंतर बढ़ रही है मगर नए केसेज का ग्रोथरेट लगभग वैसा ही बना हुआ है। बीच में तो नए मामलों की ग्रोथ रेट धीमी भी हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com