सुरक्षा में लगा था लंगूर, तीन लोगों ने बेरहमी से मार डाला, गिरफ्तार

क्योंकि यहां बजरंगबली के सारथी एक लंगूर को तीन लोगों ने बड़ी ही बेरहमी से पीट पीट कर मौत के घाट उतार दिया। बताया जाता है नई अनाज मंडी में बंदरों का आतंक था।

भिवानी। मुक्केबाजी के कारण मिनी क्यूबा, तो हर गली व हर घर में मंदिर की बदौलत छोटी काशी में ऐसा पाप हुआ है कि सुनने वाला हैरान हो जाए, शर्मसार हो जाए। क्योंकि यहां बजरंगबली के सारथी एक लंगूर को तीन लोगों ने बड़ी ही बेरहमी से पीट पीट कर मौत के घाट उतार दिया। बताया जाता है नई अनाज मंडी में बंदरों का आतंक था।

Baboon

यहां व्यापारियों के साथ किसान व मज़दूर बंदरों से बेहद परेशान थे। इनसे छुटकारा पाने के लिए मंडी एसोसिएशन ने लंगूर बंदर को रखा। सालों से ये लंगूर अपनी मस्ती में मस्त रहता और व्यापारी, किसान, मज़दूर व दुकानदारों को भी बड़ी राहत मिली हुई थी। लेकिन इस लंगूर को मरा देख सब सन्न रह गए। एक लंगूर के जाने का गम तो उपर से उसकी निर्मम हत्या ने सबके शर्मसार कर दिया।

लंगूर मंडी की सुरक्षा करता था

लंगूर के मालिक सुनील नाथ ने बताया कि उन्हें पता चला है कि तीन लोगों ने शराब के नशे में उसके लंगूर को डंडों से पीट-पीटकर मार डाला। सुनील ने पुलिस में शिकायत दी और दुखी मन से आरोपियों को गिरफ्तार कर कड़ी सजा देने की मांग की। ये लंगूर मंडी की सुरक्षा करता था जिससे सुनील नाथ का घर चलता था।

ये आरोपी गिरफ्तार

इस पूरे मामले में नई अनाज मंडी चौकी ने शिकायत मिलते ही तुरंत लंगूर के शव का चिडिय़ाघर में डॉकटरों से पोस्टमार्टम करवाया और तुरंत पहचान कर तीनों आरोपियों को गिरफ़्तार किया। गिरफ्तार किए गए आरोपी केहरपुरा गांव निवासी संदीप, ढांणी चांग निवासी विदेश व जींद जिला के गांव माली निवासी विष्णु है।  नई अनाज मंडी चौकी प्रभारी एएसआई सुरेश ने बताया कि डंडों से पीट-पीटकर लंगूर की हत्या करने वाले तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि तीनों आरोपी शराब के नशे में थे, जिन्होंने बताया कि लंगूर द्वारा उन्हें काटने दौडऩे पर मारा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *