अब फंगस के नए स्ट्रेन ने बरपाया कहर, इस राज्य में मिले केस, दो की हुई मौत

देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर अभी पूरी तरह से खत्म भी नहीं हो पायी है कि फंगस के एक नए और खतरनाक स्ट्रेन ने दस्तक दे दी है।

नई दिल्ली। देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर अभी पूरी तरह से खत्म भी नहीं हो पायी है कि फंगस के एक नए और खतरनाक स्ट्रेन ने दस्तक दे दी है। फंगस के इस नए स्ट्रेन का मामला राजधानी दिल्ली में सामने आया है। दिल्ली एम्स के चिकित्स्कों ने क्रोनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पलमनरी डिजिज (COPD) से ग्रसित दो मरीजों में एस्परगिलस लेंटुलस की पुष्टि की है। परेशान करने वाली बात ये है कि तमाम प्रयासों के बाद भी फंगस के नए स्ट्रेन से संक्रमित दोनों मरीजों की जान नहीं बचाई जा स्की और इलाज के दौरान ही उनकी मौत हो गई।

fungus

एक रिपोर्ट के अनुसार एस्परगिलस लेंटुलस दरअसल, एस्परगिलस फंगस की ही एक प्रजाति है जिससे फेफड़े संक्रमित हो जाते हैं। बताया जाता है कि फंगस के बाकी स्ट्रेन की तुलना में इसमें मृत्यू दर काफी अधिक होती है क्योंकि यह सीधे फेफड़ों पर अटैक करता है। दुनिया के दूसरे देशों में इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं लेकिन डॉक्टरों का मानना है कि भारत में इस नए स्ट्रेन की यह पहली घटना हो सकती है।

इंडियन जर्नल ऑफ मेडिकल माइक्रोबायोलॉजी छपे के केस के मुताबिक इस नए स्ट्रेन से जिन दो मरीजों की मौत हुई है उनमें से एक की उम्र 50 से 60 साल थी जबकि दूसरे की 45 साल से कम थी। बताया जाता है कि डॉक्टरों ने मरीज को Amphotericin B और ओरल Voriconazole इंजेक्‍शंस दिए गए लेकिन उन पर इस इंजेक्शन को कोई असर नहीं हुआ और एक महीने बाद उसकी मौत हो गयी।

वहीं, दूसरे मरीज को बुखार, खांसी और सांस लेने में दिक्कत के बाद एम्स के इमरजेंसी में लाया गया था। इस मरीज को Amphotericin B इंजेक्शन दिया गया लेकिन कोई असर नहीं हुआ। करीब एक हफ्ते बाद मरीज के शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया और उसकी मौत हो गयी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *