इस राज्य में हुआ भीषण हादसा, 34 लोगों की मौत, CM ने किया मुआवजा राशि का ऐलान

मध्य प्रदेश के सीधी जिले के रामपुर नैकिन थाना क्षेत्र में मंगलवार सुबह नहर में गिरी यात्री बस को निकाल लिया गया है।

सीधी। मध्य प्रदेश के सीधी जिले के रामपुर नैकिन थाना क्षेत्र में मंगलवार सुबह नहर में गिरी यात्री बस को निकाल लिया गया है। अब तक 34 यात्रियों के शव बरामद किए जा चुके हैं। इस दुर्घटना में 45 बस यात्रियों के मारे जाने की आशंका जताई जा रही है।
25 dead in bus accident in sidhi district

कुछ शव नहर के बहाव में बह गए

मध्यप्रदेश के सीधी में मंगलवार सुबह 7.30 बजे बाणसागर नहर में यात्री बस गिर गई जिसे घंटों की मशक्कत के बाद सुबह 11.45 बजे क्रेन की मदद से बाहर निकाल लिया गया है। राहत एवं बचाव कार्य में लगी टीमों ने अब तक 34 यात्रियों के शव नहर से निकाले हैं। कुछ शव नहर के बहाव में बह गए हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।

बस में कुल 54 यात्री सवार थे

7 यात्रियों को बचाया गया है,  जबकि ड्राइवर तैरकर बच निकला। उसे हिरासत में ले लिया गया है। बस में कुल 54 यात्री सवार थे। अधिकारियों ने आशंका जाहिर की है कि दुर्घटना में मृतकों की संख्या 45 से ज्यादा हो सकती है। सीधी की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंजुलता पटले ने बताया कि अब तक 34 शव निकाले जा चुके हैं।

मुख्य मार्ग छोड़कर ड्राइवर संकरे रास्ते पर ले आया था बस

पुलिस के मुताबिक बस की क्षमता 32 सवारियों की थी लेकिन इसमें 54 यात्री सवार थे। सीधी से निकली इस बस को छुहिया घाटी से होकर सतना जाना था लेकिन यहां जाम लगा होने की वजह से ड्राइवर ने रूट बदल दिया। नहर के किनारे बने रास्ते से ड्राइवर बस ले जा रहा था, जबकि यह रास्ता काफी संकरा है। इसी दौरान ड्राइवर ने संतुलन खो दिया। झांसी से रांची के लिए जाने वाला हाईवे सतना, रीवा, सीधी और सिंगरौली होते हुए जाता है। इस पर जगह-जगह सड़क खराब और अधूरी है। इस वजह से यहां आए दिन जाम लगता रहता है।

मुख्यमंत्री ने किया पांच लाख रुपये सहायता राशि का ऐलान 

मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने हादसे में मृतकों के परिजनों को पांच लाख रुपये मुआवजा देने का एलान किया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि सीधी में आज नहर में बस गिरने से बहुत दुखद दुर्घटना हुई है। सात लोग तो सुरक्षित निकल गए थे। सुबह से ही राहत और बचाव के कार्य प्रारंभ कर दिये गये थे। कलेक्टर, एसपी, कमिश्नर, आईजी सहित एसडीआरएफ की टीम आवश्यक संसाधनों के साथ वहां तत्काल पहुंच गई थी।
उन्होंने बताया कि सीधी की दुर्भाग्यपूर्ण घटना को लेकर मैं लगातार प्रशासन से और राहतकार्य में लगे हुए लोगों से चर्चा कर रहा हूँ। बहुत दु:खद है कि दुर्घटना में कई लोगों की जान चली गई है। मन बहुत व्यथित है। बचावकार्य लगातार जारी है; कलेक्टर, कमिश्नर, आईजी, एसपी, एसडीआरएफ की टीम लगी हुई है। इस दुर्घटना में हमारे जो भाई-बहन नहीं रहे, उनके परिजनों को रु. पाँच लाख की सहायता राशि तत्काल दी जाएगी। मेरी अपील है कि सभी धैर्य रखें। दु:ख की इस घड़ी में मैं और प्रदेश की जनता आपके साथ है।

मुख्यमंत्री ने दो मंत्रियों को सीधी रवाना किया

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर जलसंसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट और पंचायत राज्य मंत्री राम खेलावन पटेल को स्टेट प्लेन से सीधी दुर्घटना स्थल रवाना हुए है। सीधी जिले में बाण सागर नहर में बस गिरने से हुई दुर्घटना के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन और प्रभावित परिवारों की मदद के लिए दोनो मंत्री दोपहर 1 बजे रीवा पहुंचकर कार से दोपहर 2 बजे दुर्घटना स्थल जिला सीधी पटना सरदा सीडब्ल्यूसी नहर रीवा – शहडोल क्रॉसिंग पहुचेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *