भाजपा राज में बहन-बेटियों के साथ बढ़ रहे अपराधों के विरोध में कांग्रेस का मौन धरना-प्रदर्शन 5 अक्टूबर को

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर भाजपा राज में बहन-बेटियों के साथ बढ़ रही दरिंदगी, दुष्कर्म गैंग रेप व हत्याओं की घटनाओं के विरोध में 5 अक्टूबर को मध्यप्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर कांग्रेस मौन धरना-प्रदर्शन करेगी

भोपाल, 03 अक्टूबर यूपी किरण।  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर भाजपा राज में बहन-बेटियों के साथ बढ़ रही दरिंदगी, दुष्कर्म गैंग रेप व हत्याओं की घटनाओं के विरोध में 5 अक्टूबर को मध्यप्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर कांग्रेस मौन धरना-प्रदर्शन करेगी। साथ ही इन घटनाओं से जुड़े दोषियों के विरूद्ध कानूनी कार्यवाही कर कड़ी से कड़ी सजा दिलाये जाने की सरकार से मांग करेगी।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि एक तरफ भाजपा “बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ “ का बढ़-चढ़ कर नारा देती है, वहीं दूसरी तरफ भाजपा शासित राज्यों में ही आज बेटियां सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं। चाहे यूपी के हाथरस की घटना हो या मध्यप्रदेश के खरगोन, सतना, जबलपुर , खंडवा , सिवनी , कटनी या नरसिंहपुर की घटना हो , आज हमारी बहन-बेटियां सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं। नाथ ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरफ चौपट हो चुकी है। अपराधी तत्व बहन-बेटियों के साथ दरिंदगी, बलात्कार, सामूहिक बलात्कार की घटनाओं को बेख़ौफ़ अंजाम दे रहे हैं। बेहद शर्मसार कर देने वाली बात है कि विपक्ष में बैठकर यही ज़िम्मेदार भाजपा नेता छोटी सी घटना पर भी खूब धरना-प्रदर्शन करते थे, खूब भाषण देते थे, आज वो सब गायब हैं, मौन हैं ?
कमलनाथ ने कहा कि इन सभी घटनाओं के विरोध में, बहन-बेटियों की सुरक्षा व उन्हें न्याय दिलाने की माँग को लेकर नींद में सोई मप्र की शिवराज सरकार व उप्र की योगी सरकार को जगाने और दोषियों के विरूद्व कड़ी कार्यवाही करने की माँग को लेकर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर पर कांग्रेसजन प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर 5 अक्टूबर, सोमवार को गांधी प्रतिमा, डाॅ. बाबा साहेब आम्बेडकर की प्रतिमा के समक्ष मौन धरना-प्रदर्शन देंगे। इस दौरान स्थानीय स्तर के कांग्रेस पदाधिकारी, जिला कांग्रेस के पदाधिकारी, कांग्रेस पक्ष के समस्त जनप्रतिनिधि, कार्यकर्ता एवं आम नागरिक उपस्थित रहेंगे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *