लड़की की 30 नवंबर को थी शादी, प्रेमी के साथ भाग गई, फिर जो हुआ वह खौंफनाक था

सूचना से कुछ देर पहले ही लडक़ी के पिता ने घर के सामने रहने वाले एक युवक पर उसे भगाकर ले जाने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दी थी।

जोधपुर। शहर के निकटवर्ती मंडोर इलाके में गऊघाटी स्थित यूको बैंक के पीछे रहने वाले एक युगल ने घर से भागने के बाद मंडोर पहाड़ी इलाके में जाकर खुदकुशी कर ली। रात को पुलिस को घटना की जानकारी मिलने पर वहां पहुंची।
सूचना से कुछ देर पहले ही लडक़ी के पिता ने घर के सामने रहने वाले एक युवक पर उसे भगाकर ले जाने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दी थी। बाद में यह सूचना आ गई। बताया जाता है कि लडक़ी की आगामी 30 नवंबर को शादी होने वाली थी। परिजन ने स्कूल सर्टिफिकेट मेें उम्र के हिसाब से उसे नाबालिग बताया है।
Absconding with lover
 
मंडोर थानाधिकारी सुरेश कुमार सोनी ने बताया कि रात में गऊ घाटी स्थित यूको बैंक के पीछे रहने वाले एक व्यक्ति ने रिपोर्ट दी थी। इसमें बताया कि उसकी नाबालिग पुत्री को घर के सामने रहने वाला जीतू पुत्र कानाराम मेघवाल भगाकर ले गया है। इस पर पुलिस ने नाबालिग के अपहरण का केस दर्ज किया। इसी बीच पुलिस को सूचना मिली कि निंबा निंबड़ी- नागादड़ी के पहाड़ी इलाके में पीछे एक युगल फंदे पर लटका है। इस पर पुलिस घरवालों को लेकर उक्त स्थान पर पहुंची। तब दोनों की पहचान हो गई।
 
सूचना के साथ ही एसीपी मंडोर राजेंद्र प्रसाद दिवाकर, थानधिकारी सोनी सहित अन्य अधिकारी वहां पहुंचे। मौका ए हालात से प्रतीत हुआ कि दोनों ने फंदा लगाकर खुदकुशी की है। एफएसएल टीम भी वहां बुलाया गया। जिस पर साक्ष्य जुटाए गए। मौके पर इनके चप्पल पड़े थे और युवक के पास में दो मोबाइल थे। युवक मजदूरी करता था।

फेक्सीवल रस्सी व हल्की टहनी से शव जमीन तक लटके:

पुलिस ने प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का माना है। शवों के पैर जमीन पर टिके होने पर बताया गया कि रस्सी फेक्सीवल होने के साथ पेड़ की टहनी भी कमजोर थी और भार नहीं झेल पाई। इससे शवों के पैर जमीन पर टिक गए थे। हत्या की आशंका से इंकार किया गया है। संभवत: घर से भागने के बाद ही इन लोगों ने फंदा लगा लिया था।  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *