सपा नेता को घेरकर बदमाशों ने गोलियों से किया छलनी, बेटा बोला-SDM हत्या के जिम्मेदार

उत्तर प्रदेश के इटावा जनपद में थाना भरथना क्षेत्र में मंगलवार की देररात बालूगंज मुहल्ले में रहने वाले सपा नेता सरतार सिंह की घर से पचास कदम की दूरी पर गोली मारकर हत्या कर दी गई। बेटे ने जमीन के विवाद में हत्या करने का आरोप लगाया है। वही, उसने पिता की हत्या के लिए एसडीएम सदर सिद्दार्थ को भी जिम्मेदार ठहराया है। 

इटावा। उत्तर प्रदेश के इटावा जनपद में थाना भरथना क्षेत्र में मंगलवार की देररात बालूगंज मुहल्ले में रहने वाले सपा नेता सरतार सिंह की घर से पचास कदम की दूरी पर गोली मारकर हत्या कर दी गई। बेटे ने जमीन के विवाद में हत्या करने का आरोप लगाया है। वही, उसने पिता की हत्या के लिए एसडीएम सदर सिद्दार्थ को भी जिम्मेदार ठहराया है।
samajwadi party
भरथना के बालूगंज निवासी सरतार सिंह (45) प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते थे। वह सपा नेता भी थे। उनके परिवार में पत्नी पूनम, दो बेटे अनुराग, मधुबन और बेटी शिवा है।
परिजनों के मुताबिक खाना खाने के बाद सरतार सिंह घर के बाहर टहल रहे थे। घर से 50 कदम की दूरी पर कुछ लोगों ने उन्हें घेर लिया और ताबड़तोड़ गोलियां चला दी। इस बीच गोली की आवाज सुनकर परिजन व पड़ोसी निकले तो बदमाश फायरिंग करते हुए भाग गए। घायल सपा नेता को परिजन जिला अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

बेटे का आरोप

मृतक सपा नेता सरतार सिंह यादव के बेटे अनुराग यादव ने बताया कि उनके पिता की अट्ठारह हजार वर्ग मीटर की थाना फ्रेंड्स कॉलोनी क्षेत्र की जमीन और भर्थना में एक मकान है। उसको लेकर प्रसपा नेता मुकेश यादव से पिछले तीन साल से पिता का विवाद चल रहा था। इसी वजह से उन लोगों ने उसके पिता की हत्या की है। उसने ये भी बताया कि वर्ष 2019 में इस मामले को लेकर पिता ने शिकायत की थी। लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई थी। इसके बाद उन्होंने यहां के एसडीएम सदर सिद्दार्थ को कई बार प्रार्थना पत्र दिया, लेकिन एसडीएम ने हर बार जांच दबाई। अगर एसडीएम मामले को संज्ञान में ले लेते तो आज उसके पिता जीवित होते। उसने अपने पिता की मौत का जिम्मेदार एसडीएम को ठहराया है।

बोले एसपी ग्रमीण

एसपी ग्रामीण ओमवीर सिंह ने बताया कि पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मामला दर्ज कर जल्द ही हत्यारों की गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *