भारत को World Cup जिताने वाले इस क्रिकेटर ने इशारों-इशारों में पंड्या पर साधा निशाना, कहा- 24 गेंदे फेंकने में निकलता है दम

पांड्या पीठ की समस्या के कारण गेंदबाजी नहीं कर पाए हैं। वो केवल बैटिंग कर सकते हैं और नेट्स में भी गेंदबाजी करने से परहेज किया है

भारत को वर्ल्ड कप (World Cup) जिताने वाले पूर्व क्रिकेटर कपिल देव ने इशारों-इशारों में पंड्या पर निशाना साधते हुए कहा- 24 गेंदे फेंकने में निकलता है दम। भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव, जो बहुत घातक गेंदबाजी करने के लिए जाने जाते थे, ने वर्तमान पीढ़ी के गेंदबाजों की आलोचना की है कि उन्होंने काम के बोझ के बारे में शिकायत की और कहा कि वो सिर्फ चार ओवर फेंकने के बाद थक गए।

Hardik Pandya

कपिल ने मीडिया से बातचीत में कहा, “क्रिकेट आज बहुत बुनियादी है। आपको या तो बैटिंग करनी है या गेंदबाजी करनी है। हमारे समय में, हमें सब कुछ करना था। इसलिए आज क्रिकेट बदल गया है।” (World Cup)

उन्होंने कहा, “कभी-कभी मुझे यह देखकर दुख होता है कि कोई खिलाड़ी सिर्फ चार ओवर करने के बाद थक जाता है और मैंने सुना है कि उन्हें तीन या चार ओवर से ज्यादा गेंदबाजी करने की अनुमति नहीं है।” (World Cup)

62 वर्षीय कपिल ने कहा कि वे कम से कम 10 ओवर गेंदबाजी करने से नहीं हिचकिचाएंगे, यहां तक ​​कि नंबर 10 बल्लेबाजों को भी क्योंकि उनका मानना ​​​​है कि इससे मांसपेशियों के निर्माण में मदद मिलेगी। .(World Cup)

कपिले बोले “मुझे याद है कि हमारे समय में – मैं ये नहीं कहूंगा कि ये सही है या गलत – यहां तक ​​​​कि आखिरी खिलाड़ी जो बाहर आकर बैटिंग करता था, हम उन्हें कम से कम 10 ओवर गेंदबाजी करते थे। मानसिकता यह थी कि ये मांसपेशियों को बनाने में मदद करता है। आज शायद वो चार ओवर उनके लिए काफी हैं। इसलिए हमारी पीढ़ी को थोड़ा अजीब लगता है।”(World Cup) 

आपको बता दें कि ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या, जिन्हें कपिल देव से पद संभालने की उम्मीद थी, हाल के दिनों में फिटनेस के मुद्दों के कारण चर्चा में हैं। पांड्या पीठ की समस्या के कारण गेंदबाजी नहीं कर पाए हैं। वो केवल बैटिंग कर सकते हैं और नेट्स में भी गेंदबाजी करने से परहेज किया है। (World Cup)

Double Suicide Case की ये खबर पढ़कर हैरान हो जायेंगे आप, सुसाइड से पहले एक ने फॉर्मेट किया स्मार्टफोन तो दूसरी ने अपनी कॉपी में लिखा…

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *