ये है दुनिया का सबसे भयावह द्वीप, जहां डेढ़ लाख से ज्यादा लोग जिंदा जलाए गए

हमारी धरती अनगिनत रहस्यों से भरी हुई है। अधिकांश रहस्यों से आज तक पर्दा नहीं उठ पाया है। इतना ही नहीं दुनिया भर के वैज्ञानिक भी इन रहस्यों को पूरी तरह से समझ नहीं पाए। इन रहस्यों में जंगल, नदियाँ, तालाब, महासागर और कई द्वीप भी शामिल हैं। आज हम आपको एक ऐसे आइलैंड यानि आइलैंड के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे जानकर आपकी रूह कांप जाएगी। दरअसल, आज हम आपको यूरोप के देश इटली के एक आइलैंड के बारे में बताने जा रहे हैं। जिसके बारे में कहा जाता है कि जो भी इस आइलैंड पर गया वो कभी वापस नहीं आया।

आपको बता दें कि इस आइलैंड पर अक्सर रहस्यमयी घटनाएं होती रहती हैं, जिसके चलते यह आइलैंड पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना रहता है। दरअसल, यह रहस्यमयी द्वीप इटली के शहर वेनिस और लीडो के बीच वेनिस की खाड़ी में मौजूद है। इस द्वीप के बारे में कहा जाता है कि जो कोई भी इस द्वीप पर गया वह कभी जीवित नहीं लौटा। कई लोगों ने इन रहस्यों को सुलझाने की कोशिश की, लेकिन किसी को सफलता नहीं मिली। सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि यहां जो भी गया वह जिंदा वापस नहीं आया। इसलिए इटली सरकार ने इस रहस्यमयी द्वीप पर किसी के भी जाने पर रोक लगा दी है।

कहा जाता है कि सैकड़ों साल पहले इटली में प्लेग की महामारी फैली थी, जिसने भयावह रूप ले लिया था। आपको बता दें कि उस समय इस महामारी का कोई इलाज नहीं था, जिससे यहां की सरकार चिंतित थी। सरकार इस बीमारी के फैलने को लेकर चिंतित थी। इसी डर से सरकार ने इस द्वीप पर करीब 1 लाख 60 हजार लोगों को जिंदा जला दिया था. इसके बाद यहां काला बुखार नाम की बीमारी भी फैलने लगी। इन सब को देखते हुए यहां की सरकार ने फैसला किया कि इन लोगों के शवों को भी इसी द्वीप पर दफनाया जाए।

तभी से स्थानीय लोग इस द्वीप को शापित मानने लगे। कहा जाता है कि जले हुए लोगों की आत्माएं आज भी इस द्वीप पर भटकती रहती हैं। कई लोगों ने दावा किया है कि उन्होंने यहां आत्माओं को देखा है। इस द्वीप से अजीबोगरीब आवाजें सुनने का भी दावा किया गया है। इस आइलैंड पर हो रही रहस्यमयी घटनाओं को देखते हुए इटली सरकार ने लोगों के यहां आने पर रोक लगा दी है। इसलिए अब इस आइलैंड पर कोई इंसान नहीं जा सकता, लेकिन इस डरावने आइलैंड की सच्चाई आज तक किसी के सामने नहीं आई है।

सीएम पोर्टल पर शिकायतों का ऐसा भी निपटारा: सड़क पर अतिक्रमण के लगाए लाल निशान, पर जांच रिपोर्ट में बताया

30 साल से एक ही जिले में तैनात इस लेखाकार के पास है करोड़ों की अवैध संपत्ति, लग चुके हैं गबन तक के आरोप

अजब UP गजब UPSIDC: एक साथ दो-दो डिग्री कोर्स करने वालों और प्लाटों के फर्जी आवंटन करने वालों

शासन के फर्जी आदेश पर नौकरी हासिल करने वाले भ्रष्ट ऑफिसर मयंक श्रीवास्तव को CEO ग्रेटर नोएडा ने क्यों दिया इंडस्ट्री का प्रभार, पढ़िए खबर