इस शक्तिशाली देश ने चीन को दी ये बड़ी Warning, कहा- अगर हिंदुस्तान से जरा-सा भी॰॰॰

अमेरिका ने चीन से खुले तौर पर कहा कि भारत को जरा-भी नुकसान ना पहुंचाना वरना अंजाम बुरा हो सकता है।

न्यूयॉर्क॥ हिंदुस्तान चीन बॉर्डर पर पैदा हुए हालातों पर चिंता जाहिर करते हुये अमेरिका के एक शीर्ष सांसद ने शुक्रवार को कहा कि विवादों को शांतिपूर्वक ढंग से सुलझाने के लिए चीन को अपने पड़ोसियों के साथ काम करना चाहिए तथा अंतरराष्ट्रीय कानून का सम्मान करना चाहिये । दूसरे शब्दों में देखा जाए तो अमेरिका ने चीन से खुले तौर पर कहा कि भारत को जरा-भी नुकसान ना पहुंचाना वरना अंजाम बुरा हो सकता है।

US CHINA INDIA

अमेरिकी कांग्रेस के हिंदुस्तानी मूल के सदस्य एमी बेरा ने कहा कि हिंदुस्तान चीन सरहद पर बढ़ती शत्रुता के कारण मैं चिंतित हूं और दोनों देशों से आग्रह करता हूं कि वे मौजूदा स्थिति को सामान्य करने के लिये अपने कूटनीतिक तंत्र का उपयोग करें। उन्होंने ट्वीट किया कि वास्तविक नियंत्रण रेखा के दोनों तरफ बढ़ती सैन्य मौजूदगी प्रतिकूल और बेकार है।

सांसद ने कहा कि साउथ चीन सागर से लेकर LAC तक चीन की उकसावे वाली कार्रवाई को लेकर मैं चिंतित रहता हूं। बेरा ने दोहराया कि विवादों का शांतिपूर्वक समाधान निकालने के लिये चीन को पड़ोसियों के साथ काम करना चाहिये और अंतरराष्ट्रीय कानून का सम्मान करना चाहिये।

हिंदुस्तान और चीन की फौजों के बीच इस वर्ष मई से ही पूर्वी लद्दाख समेत वास्तविक नियंत्रण रेखा से लगने वाले विभिन्न स्थानों पर गतिरोध है। बीते पैंतालिस बरस में पहली बार सरहद पर गोली चली है और दोनों पक्ष एक दूसरे पर हवा में गोली चलाने का आरोप लगा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *