Vastu Tips: गलत जगह पर वाहन पार्क करने से उत्पन्न होते हैं वास्तु दोष, आती हैं कई परेशानियां

नई दिल्ली: जीवन वास्तु शास्त्र का बहुत महत्व है। वास्तु शास्त्र के अनुसार वाहनों को खड़ा करने के लिए उपयुक्त स्थान भी निर्धारित किया गया है। यदि ऐसा नहीं माना जाता है तो वास्तु दोष उत्पन्न होता है। और इस वास्तु दोष को आर्थिक नुकसान के रूप में भुगतना पड़ता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार उत्तर-पूर्व दिशा में कभी भी बाहर नहीं खड़ा होना चाहिए। न ही वहां गैरेज बनना चाहिए। यदि इस पर विचार नहीं किया जाता है, तो वाहन मालिक को आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ता है।

यहां होनी चाहिए वाहन पार्किंग स्थल (पार्किंग के लिए वास्तु टिप्स)
वास्तु शास्त्र में बताया गया है कि घर की उत्तर-पश्चिम दिशा में वाहन पार्किंग या गैरेज बनाना उचित है। ऐसा न होने पर दक्षिण-पूर्व दिशा में वाहन पार्किंग भी की जा सकती है। छोटे वाहनों के लिए पार्किंग पूर्व या उत्तर दिशा में बनानी चाहिए। यदि यह संभव न हो तो दक्षिण-पूर्व दिशा में वाहन पार्किंग के लिए जगह बनाना उचित है।

जिस गैरेज में आप बाहर पार्क करते हैं, वहां इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वाहन का अगला हिस्सा दक्षिण दिशा की ओर नहीं होना चाहिए। अगर ऐसा है तो व्यापार में परेशानी हो सकती है। कई बार लोग कर्जदार भी हो जाते हैं। यदि आपके घर में वाहन पार्क करने के लिए उचित स्थान नहीं है। यानी अगर गैरेज नहीं बना है तो छोटे वाहन ईशान कोण में खड़े होने चाहिए।

इसी तरह, अगर घर के बाहर चार पहिया वाहन खड़ा है, तो सुनिश्चित करें कि कार का अगला हिस्सा उत्तर की ओर हो। ऐसा करने से व्यापार में उन्नति होती है। अगर आप वेतनभोगी हैं तो जीप कार को घर के बाहर पार्क करते समय वाहन का मुंह पूर्व दिशा की ओर रखें। ऐसा करने से कार्य में सफलता मिलती है।