पति को छोड़ आई गर्लफ्रेंड को बॉयफ्रेंड से भी न मिली संतुष्टि, फिर मोहल्ले के सभी पुरूषों को एक-एक कर॰॰॰

बता दें कि महिला पर मोहल्ले के मर्दों से अवैध संबंध का आरोप था।

उत्तर प्रदेश॥ कानपुर स्थित बर्रा में नाजायज संबंधों (Illicit relations) के शक में गर्लफ्रेंड की हत्या करने वाले ऑटो ड्राइवर का सच मासूम बच्चे के बयान से बाहर आ गया। पुलिस को उसने बताया, अन्कल ने मम्मी के सिर पर ईंट मार दी और चले गए…। बता दें कि महिला पर मोहल्ले के मर्दों से अवैध संबंध का आरोप था।

woman

हत्या की पुष्टि के बाद पुलिस की दो टीमों ने ऑटो ड्राइवर की तलाश में घाटमपुर, बिधनू, कानपुर देहात में छापा मारा और तीन सन्दिग्धों को पूछताछ के लिए कस्टडी में लिया है। हमीरपुर निवासी 35 वर्षीय प्रियन्का बाजपेयी की 20 जून 2005 को फतेहपुर के जहानाबाद निवासी मनोज बाजपेयी से शादी हुई थी। उनके तीन बेटे व एक बेटी है। पति ने बताया कि शादी के बाद से वह पत्नी के साथ दामोदर नगर में किराये का कमरा लेकर रह रहे थे।

ये है मामला

वर्ष 2017 में बीवी की कानपुर देहात के ग्रहणपुर गांव निवासी ऑटो ड्राइवर देवेंद्र यादव उर्फ लोहा सिंह से मित्रता हो गई। इसकी सूचना होने पर उनका पत्नी से लड़ाई होने लगी। 2 वर्ष पहले बीवी चारों बच्चों के साथ बर्रा के जरौली फेस-1 में किराये पर रहने लगी थी।

क्षेत्रीय लोगों के मुताबिक प्रियन्का के घर पर ऑटो ड्राइवर का घर आना जाना था। दूसरे लोगों से नाजायज संबंध के शक में ऑटो ड्राइवर का उससे विवाद होता था। मंगलवार शाम को बेटा प्रतीक और बेटी आशा घर पर थे तभी आटो चालक घर पहुंचा। इस दौरान उसका प्रियन्का से झगड़ा हो गया। उसके जाने के बाद बेटा मां को खून से लथपथ देखकर चीख पड़ा था। पड़ोसियों की सूचना पर आई पुलिस उसे हैलट अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया था।

अंकल ने मम्मी के सिर पर ईंट मार दी और चले गए

घटना के समय घर पर महिला का 5 वर्ष का बेटा प्रतीक और दो वर्षीय बेटी आशा थी। पुलिस ने जब प्रतीक से पूछा तो उसने बताया कि मम्मी का अंकल से झगड़ा हो गया था। अंकल ने मम्मी के सिर पर ईंट मार दी और चले गए। महिला के पति ने बताया, वह आवास विकास में अपने दोस्त के साथ रहता है। अक्सर बच्चों से मिलने घर आता था। मंगलवार को जब घर पहुंचा तो खबर हुई। उसने कहा कि पत्नी के कई लोगों से अवैध संबंध हो गए थे। उन्होंने कई बार उसे समझाने का प्रयास किया, मगर वो नहीं मानी।

फोरेंसिक टीम ने हत्या में प्रयुक्त ईंट बरामद की थी। थाना प्रभारी बर्रा हरमीत सिंह ने बताया कि आरोपित की तलाश में दो टीमें लगाई गई हैं। एक टीम घाटमपुर, बिधनू और दूसरी कानपुर देहात के गजनेर व अकबरपुर में छापेमारी कर रही है। तीन संदिग्ध लोगों को कस्टडी में लेकर पूछताछ की जा रही है।

पुलिस के अनुसार लोहा सिंह 15 दिन में फोन नम्बर बदल देता था। इससे उसकी लोकेशन और सीडीआर ट्रेस करने में दिक्कत हो रही है। पुराने नंबरों को सीडीआर निकाली गई है। जिन नम्बरों पर ज्यादा बात हो रही थी। उन नम्बरों को शार्ट लिस्ट किया गया है। पुलिस उन संदिग्ध नंबरों की भी सीडीआर निकलवाकर आरोपित तक पहुंचने के प्रयास कर रही है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *