img

अफगान की राजधानी काबुल में मतदाता और पहचान पत्र पंजीकरण केंद्र के बाहर एकत्रित लोगों के बीच एक आत्मघाती हमलावर ने विस्फोट कर खुद को उड़ा लिया. हमले में 31 लोगों की मौत हो गई और 52 अन्य लोग घायल हुए हैं. इससे यहां 20 अक्टूबर को होने वाले चुनावों की सुरक्षा की चिंता बढ़ गई है.

आत्मघाती हमले की जांच शुरू

काबुल पुलिस के प्रमुख दाऊद अमीन ने कहा, ‘धमाका केंद्र के प्रवेश द्वार पर हुआ. यह एक आत्मघाती हमला था. जिसमें अब तक 31 लोगों की मौत हो चुकी है.’ वहीं, स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता वाहिद मजरुह ने बताया कि इस विस्फोट में कम से कम 31 लोग मारे गए हैं और 52 अन्य लोग घायल हुए हैं. शुरुआती जानकारी में 4 लोगों की मरने की खबर आई थी.

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नजीब दानिश ने मरने वालों की संख्या की पुष्टि की. केंद्र पर लोगों के राष्ट्रीय पहचान प्रमाण पत्र का पंजीकरण भी किया जाता है. मतदान केंद्र को निशाना बना कर किया गया यह ताजा हमला है शहर के पश्चिम में शिया आबादी वाले क्षेत्र में हुआ.

चुनाव बाधित करने की साजिश?a 

अफगान में काफी समय से लंबित पड़े विधायी चुनावों के लिए 14 अप्रैल से पंजीकरण करना शुरू किया था. चुनाव अधिकारियों ने माना है कि चुनावों के दौरान सुरक्षा चिंता का विषय है.

--Advertisement--