गरीब हुई दुनिया की ये इस्लामिक कंट्री; UAE को बेच दी जमीन, भारत का है खास

img

इस्लामिक कंट्री मिस्र वर्तमान में पाकिस्तान की भांति एक भयानक आर्थिक संकट से जूझ रही है। इजिप्ट अपनी जमीन और विरासत को बचान के लिए हर मुमकिन प्रयास कर रहा है। इस बीच मिस्र को यूएई से सपोर्ट मिला है। मिस्र ने यूएई के साथ उत्तरी तट पर एक विशाल शहरी, व्यापार और पर्यटन केंद्र के लिए अरबों डॉलर की ऐतिहासिक डील पर हमारी भारी है।

जिसके अंतर्गत अरबों डॉलर की लागत से अत्याधुनिक शहर रास अल हेकमा को बनाया जाएगा। इस तटीय शहर को खरीदने के लिए 35 अरब डॉलर के सौदे को अंतिम रूप दिया गया। मिस्र के आवास मंत्री असेम अल-गज्जर और अमीरात के निवेश मंत्री मोहम्मद अल सुवेदी ने इस सौदे पर हस्ताक्षर किए।

इजिप्ट के प्रधानमंत्री ने कहा कि यूएई 15 अरब डॉलर का पेमेंट नकद करेगा। बाकी का पैसा वो दो महीने में गेहा। ये समझौता देश के आधुनिक इतिहास में शहरी विकास परियोजना में सबसे अहम प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) है। उन्होंने कहा कि ये डील देश की अर्थ व्यवस्था को राहत देगी।

Related News