Diabetes Symptoms: मरीजों को गलती से भी नाश्ते में नहीं लेनी चाहिए ये चीजें, हो सकता है बड़ा नुकसान

वैसे तो हर किसी को फिट रहने के लिए अपने खान-पान का खास ख्याल रखना चाहिए लेकिन बात जब डाइबिटीज (Diabetes Symptoms) के रोगियों की हो तो ये सतर्कता और भी अधिक...

वैसे तो हर किसी को फिट रहने के लिए अपने खान-पान का खास ख्याल रखना चाहिए लेकिन बात जब डाइबिटीज (Diabetes Symptoms) के रोगियों की हो तो ये सतर्कता और भी अधिक बढ़ जाती है। डाइबिटीज के मरीजों को कुछ चीजें नाश्ते में बिलकुल भी नहीं लेनी चाहिए। आइए जानते हैं अच्छी सेहत और ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के लिए डायबिटीज के मरीजों को नाश्ते में क्या लेना चाहिए और क्या नहीं।

Diabetic patients - Diabetes Symptoms

न्यूट्रिशनिस्ट और वैलनेस एक्सपर्ट के मुताबिक मधुमेह (Diabetes Symptoms) रोगियों नाश्ते में चीनी या साधारण कार्ब्स वाले खाद्य पदार्थ, फलों की स्मूदी, शक्कर वाले अनाज, चाय या कॉफी में उपयोग की जाने वाली सफेद चीनी, ,पेस्ट्री और पेनकेक्स, पैकेट वाले जूस, मैदा की रोटी जैसे खाद्य पदार्थों के साथ चॉकलेट स्प्रेड और जैम आदि लेने से बचना चाहिए।

किन चीजों से करें परहेज

डायबिटीज के मरीजों को नाश्ते में चाय या कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए। ताजे या पैक्ड जूस का सेवन भी करने से बचना चाहिए। आटा ब्रेड, चॉकलेट्स, पेस्ट्रीज, प्रोसेस्ड फूड्स क्रोसिसेंट्स आदि मीठी चीजों का भी सेवन नहीं करना चाहिए।

नाश्ते में इन चीजों को करें शामिल (Diabetes Symptoms)

जौ

डायबिटीक पेशेंट को नाश्ते में जौ से बनी चीजें खानी चाहिए। जौ में ओट्स की तुलना में प्रोटीन की मात्रा दोगुनी होती है जबकि कैलोरी आधी होती है। इसके साथ ही जौ भूख कंट्रोल करता है। इसके सेवन से दिल की बीमारियां होने का भी खतरा कम रहता है। (Diabetes Symptoms)

लो फैट दही (Diabetes Symptoms)

डाइबिजिज के रोगियों को सुबह या दोपहर के समय लो फैट दही का सेवन जरूर करना चाहिए। इसके सेवन से इंसुलिन की मात्रा तुरंत नहीं बढ़ती है। दही में प्रोटीन और कैल्‍शियम समेत अन्‍य कई पौष्‍टिक तत्‍व पाए होते ही जो टाइप 2 डायबिटीज होने की संभावनाओं को रोकते हैं। (Diabetes Symptoms)

अंडे की भुर्जी

मधुमेह (Diabetes Symptoms) के मरीजों को ऑमलेट के स्थान पर नाश्ते में अंडे की भुर्जी या उबला हुआ अंडा लेना चाहिए। अंडे में प्रोटीन, विटामिन डी और फैट प्रचुर मात्रा में होता है जो एनर्जी लेवल को बनाए रखने के साथ व्यक्ति को जल्दी भूख लगने देता।

फल और बादाम

नाश्ते में बादाम के सेवन से टाइप-2 डायबिटीज (Diabetes Symptoms) के मरीजों में ग्‍लाइसीमिक नियंत्रित रहता है। हर दिन चार से पांच बादाम के साथ कुछ मौसमी फल खाने से शरीर में एंटीऑक्‍सीडेंट और अन्‍य जरूरी पोषक तत्‍व डायबिटीज को नियंत्रित रखते हैं।

Chanakya Niti: तनाव और विवाद से रहना चाहते हैं दूर, तो जरूर अपनाएं चाणक्य की इन नीतियों को

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *