यूरोपीय संघ ने दी ये धमकी तो रूस ने भी दी कड़ी प्रतिक्रिया, सख्त लहजे में कही ये बात

रूस में विपक्षी नेता एलेक्‍सी नवलनी की गिरफ्तारी पर यूरोपीय संघ द्वारा प्रतिबंध की धमकी दिये जाने के बाद रूस ने कड़ी प्रतिक्र‍िया दी है।

मॉस्‍को। रूस में विपक्षी नेता एलेक्‍सी नवलनी की गिरफ्तारी पर यूरोपीय संघ द्वारा प्रतिबंध की धमकी दिये जाने के बाद रूस ने कड़ी प्रतिक्र‍िया दी है। रूस ने कहा है कि यूरोपीय संघ यदि प्रतिबंध लगाता है तो वह इसके नतीजे भुगतने को तैयार रहे। रूस ने कहा है कि वह अपना नाता यूरोपीय संघ से तोड़ लेगा। रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने सख्‍त लहजे में कहा कि हम अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय से अलग-थलग नहीं पड़ना चाहते,  लेकिन हम उसके लिए तैयार हैं।

बोले रूसी विदेशी मंत्री

यूरोपीय संघ के साथ औपचारिक संबंध बनाए रखने संबंधी सवाल पर रूसी विदेश मंत्री ने कहा है कि रूस अलग-थलग नहीं पड़ना चाहता। उन्‍होंने कहा कि यदि यूरोपीय संघ रूस की अर्थव्‍यवस्‍था को नुकसान पहुंचाने वाला कोई कदम उठाता है तो हमारा देश जवाबी फैसला देगा। उन्‍होंने कहा कि अगर रूस पर आर्थिक पाबंदी लगाई गई तो रूस इसका जवाब देगा।

तीनों देशों ने रूस के राजनयिकों को निष्कासित कर दिया

गौरतलब है कि मॉस्को ने नवलनी के समर्थन में प्रदर्शन में हिस्सा लेने वाले जर्मनी, पोलैंड और स्वीडन के राजनयिकों को निष्कासित कर दिया था। जवाब में यूरोपीय संघ के तीनों देशों ने रूस के राजनयिकों को निष्कासित कर दिया है।

रूस की सरकार ने आलोचक एलेक्‍सी नवलनी को स्‍वदेश लौटने के तुरंत बाद गिरफ्तार कर लिया गया। नवलनी करीब छह माह बाद स्‍वदेश लौटे थे। 30 दिसंबर2019 को ही उनके खिलाफ रूस की सरकार ने दबाव बनाते हुए धोखाधड़ी के नए मामले दर्ज किए थे। उन पर एंटी करप्‍शन फाउंडे समेत अन्‍य संस्‍थाओं के लिए अरबों डॉलर की फंडिंग में धांधली किए जाने का आरोप है। स्‍वदेश आने से पहले ही रूसी जांच एजेंसियां उनके खिलाफ जांच शुरू कर दी थी। इसके अलावा उन पर एक पुराने मामले में सजा के निलंबन की शर्तो का उल्लंघन किए जाने का भी आरोप है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *