बोर्ड, इंजीनियरिंग और डॉक्टरी की पढ़ाई करने वाले छात्रों की फीस देगी धामी सरकार

img

उत्तराखंड भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड (बीओसीडब्ल्यू) के माध्यम से पंजीकृत श्रमिकों और उनके आश्रितों को धामी सरकार बड़ी सौगात देने जा रही है। सरकार ऐसे सभी लोगों को बोर्ड के बजट से ईएसआई (चिकित्सा सेवा) और बच्चों को मुफ्त रोजगार संबंधी शिक्षा प्रदान करेगी।

सीएम धामी सरकार राज्य में निर्माण क्षेत्र में कार्यरत रजिस्टर्ड श्रमिकों और ई पोर्टल में पंजीकृत श्रमिकों की सामाजिक सुरक्षा को बड़ी योजना पर कार्य कर रही है। सरकार ये काम पंजीकृत श्रमिकों की सामाजिक सुरक्षा के अंतर्गत प्रस्तावित योजना से करने जा रही रही है। योजना के अनुसार, सरकार बोर्ड देहरादून में रजिस्टर्ड श्रमिकों के बच्चों को आईटीआई, पॉलिटेक्निक में मुफ्त पढ़ाई का बंदोबस्त करने जा रहा है।

स्कीम में प्रवेश पाने वाले बच्चों के लिए बोर्डिंग (हॉस्टल की व्यवस्था), यूनिफॉर्म, पाठ्य पुस्तकों, आदि पर खर्च होने वाली धनराशि पूरी तरह बोर्ड वहन करेगा। इन आईटीआई और पॉलिटेक्निक से तीन वर्ष में 75 बच्चों को रोजगारपरक शिक्षा प्राप्त होगी। इसके साथ साथ इन बच्चों के हॉस्टल पर होने वाला खर्चा भी बोर्ड उठाएगा। सरकार ने पंजीकृत श्रमिकों को मेडिकल सुरक्षा की ईएसआई जैसी बड़ी सौगात देने का भी फैसला लिया है। अभी तक श्रमिक इस सेवा लाभ नहीं उठा पा रहे थे।

योजना में इन लोगों को किया जाएगा सम्मिलित

राज्य में कल्याण बोर्ड में पंजीकृत निर्माण श्रमिको, के साथ साथ अंसगठित श्रमिकों, घरेलू,मनरेगा, एसएचजी, कृषि एवं भूमिधर, आशा कार्यकर्ताओं, आंगनबाड़ी वर्कर्स, नगरीय असंगठित श्रमिकों, ठेला, फेरीवाला, ईट भट्टा, मछुवारों, आदि मदूरों को योजना में शामिल किए जाने का विचार है।

 

 

Related News