Indian Rail: ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना के कार्यों का निरीक्षण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सलाहकार भास्कर खुल्बे ने ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना (Indian Rail) के कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया।

ऋषिकेश: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सलाहकार भास्कर खुल्बे ने ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना (Indian Rail) के कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया। रेलवे अधिकारियों ने उनको परियोजना की कार्यप्रगति का ब्यौरा दिया। भास्कर खुल्बे ने अधिकारियों को मानको और गुणवत्ता पर खरा उतरते हुए निर्धारित समयावधि में निर्माण कार्य पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने त्रिवेणी घाट पर संध्याकालीन आरती में शामिल होकर मां गंगा का आशीर्वाद भी लिया।

Indian Rail - project

Indian Rail के निर्माण कार्यों का निरीक्षण

बुधवार को प्रधानमंत्री के सलाहकार भास्कर खुल्बे ऋषिकेश पहुंचे !न उन्होंने शिवपुरी में ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना (Indian Rail) के निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। रेल विकास निगम के मुख्य परियोजना प्रबंधक हिमांशु बडोनी ने भास्कर खुल्बे को बताया कि सभी नौ पैकेज पर परियोजना का कार्य काफी तेजी के साथ चल रहा है। उन्होंने बताया कि 14 किलोमीटर से अधिक रेल सुरंग का निर्माण हो गया है। परियोजना प्रबंधक ने प्रधानमंत्री के सलाहकार को बताया कि निर्धारित समयावधि वर्ष 2024 तक परियोजना योजना का कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

इसके बाद भास्कर खुल्बे शाम को त्रिवेणी घाट पर सांध्यकालीन आरती में शामिल हुए। यहां गंगा समिति के कार्यकारी अध्यक्ष राहुल शर्मा और अन्य पदाधिकारियों ने उनका स्वागत किया। निरीक्षण और गंगा आरती के दौरान प्रधानमंत्री कार्यालय में अवर सचिव मंगेश घिल्डियाल, पर्यटन सचिव उत्तराखंड दिलीप जावलकर, जिलाधिकारी डॉ. राजेश कुमार, उपजिलाधिकारी डॉ. अपूर्वा पांडेय, लेखपाल सतीश जोशी मौजूद रहे। प्रधानमंत्री क सलाहकार ने जीएमवीएन के गंगा रिसोर्ट में रात्रि विश्राम किया। अगले दिन उनका केदारनाथ जाने का प्रोग्राम है ! (Indian Rail)

आज के दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए इस विधि से करें पाठ

Industrial Development :क्या चर्चा हुई मंत्री और सिंगापुर के प्रतिनिधि मण्डल के बीच ?

Road Repair work : कैसे और कबतक होगा क्षतिग्रस्त सडकों को गड्ढामुक्त करने का काम ?

Facility to Farmers : क्या है गन्ना किसानों के हक में सरकार की एक और पहल ?

Backward Classes : जानिए कितने मामलों की सुनवाई हुई पिछड़ा वर्ग आयोग में ?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *