खेल महाकुंभ ओलंपिक : शांतिकाल में योद्धाओं के बीच प्रतिस्पर्धा के साथ हुई थी शुरुवात

वैश्विक खेल महाकुंभ के रूप में विख्यात ओलंपिक खेलों का इतिहास पुराना है। ऐतिहासिक स्रोतों के मुताबिक़ ओलंपिक खेल ज्यूस देवता के सम्मान में प्राचीन यूनान के ओलंपिया शहर में 776 ईसा पूर्व आयोजित होते थे। बाद में रोम के सम्राट थियोडोसिस ने इन खेलों पर रोक लगा दी थी। आधुनिक ओलंपिक खेल प्रतियोगिता का आरंभ यूनान के एथेंस शहर में 1896 ईसवी में हुआ था। खेलों के इस महाकुंभ को पुनः आयोजन का श्रेय फ्रांस के बैरो पियरे डी कुबर्तिन नामक व्यक्ति को दिया जाता है। पहले ओलंपिक में महिलाओं की हिस्सेदारी नही थी, लेकिन अगले पेरिस ओलम्पिक में महिलाओं ने भी इसमें हिस्सा लिया था। ओलंपिक खेलों का आयोजन चार साल के अंतराल पर होता है।

प्रारंभ में ओलंपिक खेलों का आयोजन योद्धा-खिलाड़ियों के बीच हुआ था। शांतिकाल में योद्धाओं के बीच प्रतिस्पर्धा के साथ खेलों का विकास हुआ। प्रारंभ में दौड़, मुक्केबाजी, कुश्ती और रथों की दौड़ आदि खेल ही इसमें शामिल थे। इसमें सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले योद्धाओं को कविता और मूर्तियां प्रदान कर पुरस्कृत किया जाता था। चूंकि सबसे पहले ओलंपिक खेलों का आयोजन ग्रीस अर्थात यूनान की राजधानी एथेंस स्थित ओलंपिया पर्वत पर आयोजित किया गया था, इसलिए इसे ओलंपिक कहा जाने लगा।

शुरुआत के आयोजनों में इसमें राज्यों और शहरों के ही खिलाड़ी हिस्सा लेते थे। जल्द ही यह इतना ज्यादा लोकप्रिय हो गया कि ओलंपिक खेलों के दौरान बड़े-बड़े युद्ध तक स्थगित किये जाने लगे थे। ओलंपिक खेलों में लड़ाई और घुड़सवारी सबसे लोकप्रिय खेल थे, लेकिन सुविधाओं की कमी, आयोजन की मेजबानी की समस्या और खिलाड़ियों की कम हिस्सेदारी आदि समस्याओं के चलते इसका आयोजन बेहद कठिन था। इसके बावजूद जल्द ही ओलंपिक खेलों का आयोजन बुलंदियों पर पहुंच गया।

ओलंपिक खेलों का आयोजन बेहद जिम्मेदारी और चुनौतीपूर्ण है। इसमें आने वाले ख़र्चों के अलावा खिलाड़ियों और दर्शकों की सुरक्षा एक बड़ी समस्या है। शांतिपूर्ण और सफल आयोजन के लिए 894 में अंतराष्ट्रीय ओलंपिक समिति की स्थापना हुई थी। इस समिति का मुख्यालय स्विट्जरलैंड में है। अंतराष्ट्रीय ओलंपिक समिति में एक अध्यक्ष, तीन उपाध्यक्ष और साथ कार्यकारी सदस्य होते है। वर्तमान में यही समिति ओलम्पिक खेलों का संचालन करती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *