सरकार का बड़ा फैसला : अब घर बैठे पिएं शराब, पढ़ें बड़ी बातें

दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में शराब की घरों में होम डिलीवरी करने का फैसला लिया है। सरकार ने मोबाइल ऐप या ऑनलाइन वेब पोर्टल के जरिए शराब की होम डिलीवरी करने की इजाजत दे दी है।

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में शराब की घरों में होम डिलीवरी करने का फैसला लिया है। सरकार ने मोबाइल ऐप या ऑनलाइन वेब पोर्टल के जरिए शराब की होम डिलीवरी करने की इजाजत दे दी है। सरकार की तरफ से कोरोना संक्रमण को रोकने की दिशा में लिया गया फैसला बताया जा रहा है।

Ahora beber alcohol mientras está sentado en su casa

एल-13 लाइसेंस धारकों को लोगों के घर तक शराब पहुंचाb ने की अनुमति होगी

दिल्ली आबकारी (संशोधन) नियम 2021 के अनुसार, एल-13 लाइसेंस धारकों को लोगों के घर तक शराब पहुंचाने की अनुमति होगी।अधिसूचना में कहा गया, ‘लाइसेंसधारक केवल मोबाइल ऐप या ऑनलाइन वेब पोर्टल के माध्यम से ऑर्डर मिलने पर ही घरों में शराब की डिलीवरी करेगा। लेकिन इस सुविधा के तहत किसी भी छात्रावास, कार्यालय और संस्थान को कोई डिलीवरी नहीं की जाएगी।’

इसके पीछे सरकारों का तर्क

देश का सर्वोच्च न्यायालय भी शराब की होम डिलीवरी पर विचार करने का सुझाव दे चुका है। जिसमें उसकी तरफ से कहा गया था कि शराब की दुकानों पर अक्सर भीड़ के कारण कोरोना नियमों की अनदेखी की तस्वीरें सामने आती रही हैं। वहीं देश की कई राज्य सरकारें इसकी घोषणा पहले ही कर चुकी हैं। छत्तीसगढ़ सरकार ने शराब की होम डिलीवरी शुरू की थी। इसके पीछे सरकारों का तर्क है कि इस फैसले से कोरोना काल में शराब की दुकानों पर भीड़ इकट्ठा नहीं होगी।

शराब की अब सभी दुकानें प्राइवेट होंगी

उल्लेखनीय है इसके पहले दिल्ली सरकार ने राजधानी में शराब पीने के लिए कानूनी तौर पर न्यूनतम उम्र 25 साल से कम करके 21 कर दी है। दिल्ली सरकार नई आबकारी नीति को मंजूरी दे चुकी है। इस नीति के तहत दिल्ली सरकार ने शराब की नई दुकान नहीं खोलने का फैसला किया है। सभी सरकारी दुकानें बंद होंगी, दिल्ली में शराब की अब सभी दुकानें प्राइवेट होंगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *