गोमती रीवर फ्रंट घोटाले पर बोले सिद्धार्थ नाथ – अखिलेश यादव के भ्रष्‍टाचार में डूबे कार्यकाल की गवाही

समाजवादी पार्टी का चाल, चरित्र और चेहरा सामने आया

लखनऊ। रीवर फ्रंट घोटाले को लेकर योगी सरकार के प्रवक्‍ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सपा अध्‍यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को कठघरे में खड़ा किया। उन्‍होंने कहा कि रीवर फ्रंट घोटाला अखिलेश यादव के भ्रष्‍टाचार में डूबे कार्यकाल की चीख-चीख कर गवाही दे रहा है।

गोमती रीवर फ्रंट घोटाले को लेकर सिद्धार्थ नाथ सिंह मीडिया से मुखातिब थे। कैबिनेट मंत्री ने कहा कि सपा सरकार के पांच वर्ष का कार्यकाल घोटालो से भरा है। सपा सरकार ने जनता की गाढ़ी कमाई को लूटा है। समाजवादी पार्टी का चाल, चरित्र और चेहरा सामने आ गया है। इस घोटाले में जो भी दोषी है, उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।

रीवर फ्रंट घोटाले के संबंध में मीडिया से बातचीत करते हुए सिद्धार्थ नाथ ने कहा कि लगभग 1400 करोड़ की लागत से बने गोमती रीवर फ्रंट घोटाले में कई इंजीनियर और ठेकेदारों के खिलाफ सीबीआई कार्रवाई कर रही है। जल्द ही घोटाले की सारी सच्चाई सामने आने वाली है कि अखिलेश सरकार में एक रुपये का सामान कैसे सौ रुपये में खरीदा गया है। सीबीआई जांच पर अखिलेश यादव चोरी के बाद सीना जोरी करने पर उतारू हैं।

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि अखिलेश यादव हर तरफ से मिल रही करारी हार से निराश हैं। अब अखिलेश यादव का सिर्फ एक ही काम रह गया है सुबह उठकर सरकार के खिलाफ ट्वीट करना। प्रदेश की जनता से अखिलेश का कोई सरोकार नहीं है। आगामी विधान सभा चुनाव में भी प्रदेश की जनता समाजवादी पार्टी को सबक सिखायेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *