img

लखनऊ ।। सपा-बसपा के गठबंधन की वजह से भारतीय जनता पार्टी का मनोबल गिरना लाज़़मी है। जैसा की आपने यूपी के उपचुनाव में देखा था। इसी बीच लोकसभा चुनाव को लेकर अखिलेश यादव ने बड़ा बायन दिया है। जिससे भाजपा चैंन की सांस नहीं ले पा रही है।






दरअसल, गाजीपुर के आदर्श बाजार स्थित जंगीपुर विधायक डा. वीरेंद्र यादव के आवास पर शुक्रवार की रात सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने। कहा कि सीटों के बंटवारे पर दोनों दलों के शीर्ष नेतृत्व समय पर निर्णय करेंगे।

पढ़िए- उपचुनाव: कैराना लोकसभा सीट से इस प्रत्याशी का नाम आने से BJP में हड़कंप, अखिलेश-मायावती…

उन्होंने कहा कि चुनाव के समय झूठा वादा करने वाली भाजपा सरकार की कलई खुल गई है। वह काला धन तो ला नहीं सकी उल्टे सफेद धन जरूर उसके ही सरकार में कुछ लोग विदेश लेकर भाग जा रहे हैं।

उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि कानून-व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। आए दिन लूट-हत्या व दुष्कर्म की घटनाएं हो रही हैं। किसानों को उनका समर्थन मूल्य नहीं मिल पा रहा है। अभी 11 हजार करोड़ किसानों के गन्ना का भुगतान बकाया है।

पढ़िेए- उप चुनाव: कैराना लोकसभा सीट को लेकर अखिलेश यादव ने बनाई ये रणनीति, मुलायम सिंह…

काफी किसानों के गन्ना की फसल खेतों में पड़ी है। गेहूं क्रय केंद्र कागजों में खुले हैं। भाजपा धर्म, मजहब के नाम पर केवल लोगों को लड़ाना जानती है मगर अब जनता जाग गई है। उसे यह महसूस हो गया है कि भाजपा पार्टी केवल गुमराह कर रही है। इसी का नतीजा रहा कि गोरखपुर व फूलपुर
उपचुनाव की सीट पर भाजपा को करारी हार झेलनी पड़ी।

फोटोः फाइल

--Advertisement--