चुनाव से पहले ढहा दी जाएगी अब यूपी की ये मस्जिदें, करवाये जाएंगे सांप्रदायिक दंगे

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू अक्सर अपने विवादित बोल को लेकर सुर्खियों में रहते हैं। अब उनका एक फेसबुक पोस्ट आग तरह प्रसारित हो रहा है।

masjid

इस पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि अभी तो ये झांकी है, काशी मथुरा बाकी है। जो लोग चिल्ला रहे हैं कि भाजपा की लोकप्रियता घट रही है, वो भूल गए हैं कि यूपी का चुनाव हनोज दूर अस्त मतलब इलेक्शन अभी दूर है।

पूर्व जज ने आगे लिखा कि इलेक्शन से कुछ वक्त पहले सुनियोजित ढंग से व्यापक सांप्रदायिक दंगे (हिंदू-मुस्लिम) करवाए जाएँगे (संभवतः काशी और मथुरा मस्जिद गिरवाकर), जिससे हमारी मूर्ख जनता जिनके खोपड़े में सांप्रदायिकता का गोबर भरा है, उत्तेजित हो जाएगी और भड़भड़ा कर भाजपा को वोट दे देगी।

आपको बता दें कि अपने बोल बच्चन के बाद मार्कंडेय काटजू कई अन्य यूजर्स के निशाने पर भी आ गए हैं। हालांकि, यह कोई पहली बार नहीं है, इससे पहले भी सुर्खियों में बने रहने के लिए वो विवादित बयान देते रहे हैं। वर्ष 2015 में काटजू ने एक सेमिनार में कहा था कि कि 90 % हिंदुस्तानी बेवकूफ होते हैं, जो धर्म के नाम पर आसानी से बहकावे में आ जाते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *