जनता की समस्या को लेकर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने लिया बड़ा फैसला, डीएम को दिये ये निर्देश

सीएम तीरथ ने ग्रामीणों का चाल-खाल व स्वैच्छिक चकबंदी की दी सलाह

नई टिहरी॥ उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने जिले के विकासखंड चंबा के ग्राम चोपड़ियाल में मुख्यमंत्री त्वरित समाधान कार्यक्रम के अंतर्गत आयोजित रात्रि चौपाल में वर्चुअल प्रतिभाग किया। इस मौके पर सीएम ने ग्रामीणों को स्वैच्छिक चकबंदी कर खेतों को मिलाकर एक प्रोजेक्ट के रूप में कार्य करने को प्रेरित किया।

CM Tirath

कहा कि मनरेगा के अंतर्गत सीसी खड़ेजा की बजाय चाल-खाल को प्राथमिकता दें। इससे सिंचाई का समाधान होगा।महिलाएं स्वयं सहायता समूह बनाकर स्वरोजगार प्राप्त करें और इस दिशा में जनजागरूकता लाएं रात्रि चौपाल के दौरान चोपड़ियाल गांव में सब्जी की खेती करने वाले ग्रामीण खुशी राम डबराल ने बताया कि वे वैज्ञानिक ढंग से खेती कर रहे हैं। सरकार की स्कीम से कार्य कर रहा हूं। परंतु सब्जी के लिए मार्केट और पानी की सबसे बड़ी परेशानी है।

सीएम ने कहा कि साथ ही जानवर भी फसलों को नुकसान पहुंचाते हैं। उन्होंने कहा कि यदि गांव में फेंसिंग हो जाए तो फसल सुरक्षित रह पाएंगी। इस पर सीएम ने कहा कि मनरेगा और चाल-खाल योजना के अंतर्गत समाधान सुनिश्चित करवाया जायेगा। ग्रामीण रमेश ने बताया कि चंबा-मंसूरी फलपट्टी में प्लाट का उन्हें स्वामित्व नहीं मिल पा रहा है। डीएम को कार्यवाही के निर्देश दिये।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *