जानें उस मुगल बादशाह की कहानी जो पहनता था घाघरा-चोली

img

मुगलों ने भारत पर कई वर्षों तक शासन किया। कई मुगल बादशाहों की कहानियां आज भी सुनाई जाती हैं। मुगल बादशाह मोहम्मद शाह रंगीला की कहानी अनोखी है. वो सन् 1719 से 1748 के बीच शासक रहे।

उन्होंने अपने शासन काल में अजीबो-गरीब काम किये जो राज्य में चर्चा का विषय बने रहे। 1707 में औरंगजेब की मृत्यु के बाद, दिल्ली बिना सम्राट के थी। सन् 1719 तक दिल्ली पर कई सम्राटों का शासन था। लेकिन कोई भी जीवित नहीं बचा.

17 सितंबर सन् 1719 को रौशन अख्तर उर्फ ​​मोहम्मद शाह, जो मोहम्मद शाह रंगीला के नाम से मशहूर थे, गद्दी पर बैठे। उस समय वह केवल 16 वर्ष के थे। सम्राट बनने के बाद उन्होंने इस्लामी कानून से कई प्रतिबंध हटा दिए।

उनके समय में दिल्ली में संगीत और कला को पुनः प्रोत्साहन मिला। उन्हें महिलाओं के कपड़े पहनना पसंद था. मोहम्मद शाह रंगीला अक्सर घाघरा चोली पहनकर दरबार में आते थे।

Related News