आइएस माड्यूल से जुड़े हो सकते हैं आतंकियों के तार : पुलिस

img

लखनऊ।। उत्तर भारत के हृदय में एक बार फिर आतंकवाद ने दस्तक दी है। मंगलवार को मध्यप्रदेश में हुए धमाकों के कुछ घंटे बाद ही कानपुर से दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया और फिर लखनऊ में घंटों चले ऑपरेशन के बाद यूपी एटीएस ने आतंकवादियों को घेर लिया। इन आतंकियों के तार आईएसआईस के खुरासान मॉडल जुड़े बताए जा रहे हैं।

यूपी में गिरफ्तार आतंकियों का मध्य प्रदेश में ट्रेन में हुए विस्फोट के बाद पकड़े गए आतंकियों से सीधा कनेक्शन दिख रहा है। एमपी में पकड़े गए आतंकियों में दो कानपुर के रहने वाले निकले, जबकि एक इटावा का है। एमपी पुलिस की ही सूचना पर यूपी पुलिस ने धरपकड़ मंगलवार को शुरू की थी, लखनऊ के ठाकुरगंज में मुठभेड़ देर रात तक जारी रही।

पुलिस और खूफिया एजेंसियों के लिए ये बड़ी कामयाबी हो सकती हैं, क्योंकि बुधवार को बनारस समेत कई जिलों में विधानसभा चुनाव के आखिरी चरण का मतदान है। बनारस में आतंकी हमला हो चुका है तो अयोध्या भी हमेशा निशाने पर रहा है। ऐसे में एटीएस की इस कार्रवाई को बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है।

भोपाल-उज्जैन पैसेंजर की एक बोगी में मंगलवार को आईईडी से ब्लास्ट हुआ। मध्य प्रदेश पुलिस ने इसके बाद यहीं के पिपरिया स्थान से तीन अभियुक्तों दानिश अख्तर उर्फ जफर पुत्र रईश अख्तर निवासी केडीए कालोनी कानपुर, सैय्यद मीर हुसैन उर्फ हम्जा पुत्र सैय्यद अहशान हसन निवासी इन्द्रिरा नगर, अलीगढ़ और आतिश मुज्जफर उर्फ अल कासिम पुत्र मुज्जफरूल हक नकवी निवासी जाजमऊ, कानपुर को पकड़ लिया।

 

Related News