इसलिए इस्लाम धर्म अपनाना चाहते हैं 2000 दलित

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

उत्तर प्रदेश/आगरा।। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ‘सबका साथ सबका विकास’ की बात करती है। लेकिन, दलितों पर लगातार अत्याचार जारी है।

अत्याचार से तंग आकर अलीगढ़ के 2,000 से अधिक दलितों ने हिंदू धर्म छोड़ कर इस्लाम अपनाने की धमकी दी है। इससे पहले मुरादाबाद और संभल में भी दलितों ने इस्लाम अपनाने की धमकी दी थी।

अलीगढ़ जिले के केशोपुर झोपड़ी गांव के हजारों दलितों ने रविवार को हिंदू देवी-देवताओं की तसवीरों को नाले में बहा कर हिंदू धर्म को अलविदा कहने का संकेत दे दिया।

उत्तर प्रदेश के कई अन्य इलाकों से भी ऊंची जाति के लोगों द्वारा दलितों का उत्पीड़न करने के मामले सामने आये हैं। अलीगढ़ में भैरव बाबा मंदिर के निर्माण को लेकर तनाव था।

पिछले सप्ताह दलित एक कुआं के पास भैरव बाबा के मंदिर का निर्माण करना चाहते थे, लेकिन पड़ोस में रहनेवाले ठाकुर समुदाय के लोगों ने इस पर आपत्ति जतायी।

इससे दलित समुदाय आक्रोशित हो गया और एक स्थानीय दलित नेता ने बताया कि ऊंची जाति के लोगों के भेद भावपूर्ण रवैये के कारण इतनी बड़ी तादाद में दलित समुदाय के लोगों ने इस्लाम अपनाने का फैसला किया है।

ऊंची जाति के लोग दलितों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं करते और वे दलितों को हिंदू समाज का हिस्सा नहीं मानते। दलितों के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हैं। इसलिए दलितों ने तय किया कि अपमान सहने से बेहतर है कि वे धर्म परिवर्तन करवा लें.

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़े

 

http://upkiran.org/3107

Related News