इस हॉस्पिटल में भर्ती हैं 6 मरीज, लेकिन इलाज कौन कर रहा पता नहीं

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

लखनऊ।। सरोजनीनगर के स्कूटर्स इंडिया चौराहा स्थित श्याम नर्सिंग होम पर सीएमओ की टीम ने शुक्रवार को छापेमारी की। इस दौरान नर्सिंग होम में 6 मरीज भर्ती मिले। लेकिन इनका इलाज कौन कर रहा था उसका आता-पता नहीं था।

जांच-पड़ताल में पता चला कि नर्सिंग होम का संचालन आठवीं कक्षा पास घनश्याम सिंह कर रहा था। सीएमओ की टीम को देखते ही वह भाग निकला। इसके बाद टीम ने नर्सिंग होम को सीज कर दिया।

अधिकारियों के मुताबिक, डीएम कौशलराज शर्मा को कई बार इस नर्सिंग होम के बारे में शिकायतें मिली थीं। डीएम के आदेश पर सरोजनीनगर एसडीएम शैलेन्द्र कुमार सिंह, एसीएमओ डॉ. संजय कुमार और सरोजनीनगर सीएचसी अधीक्षक डॉ.अनिल कुमार दीक्षित ने स्वास्थ्य कर्मियों के साथ शुक्रवार को श्याम नर्सिंग होम में छापा मारा।

यहां दो प्रसूता समेत छह मरीज भर्ती थे। इनमें से एक मरीज का पथरी का ऑपरेशन हुआ था। टीम को देखकर नर्सिंग होम के सारे कर्मचारी भाग निकले। इस दौरान नर्सिंग होम में कोई डॉक्टर नहीं मिला।

छापेमारी में टीम को पता चला कि नर्सिंग होम का रजिस्ट्रेशन अप्रैल महीने में ही खत्म हो गया था। पंजीकरण में आठ डॉक्टरों की लिस्ट थी। जबकि टीम को संचालक की किसी डिग्री के बारे में पता नहीं चला।

जांच पड़ताल के दौरान पता चला कि संचालक केवल आठवीं कक्षा पास है। अधिकारियों के अनुसार उसने पैरा मेडिकल की फर्जी डिग्री लगाकर रजिस्ट्रेशन करवाया था। बताया जा रहा है संचालक नर्सिंग होम के पीछे ही दूसरी मंजिल पर परिवार के साथ रहता है।

हालांकि छापे के दौरान वह परिवार समेत फरार हो गया। नर्सिंग होम परिसर में ही मेडिकल स्टोर भी चल रहा था। यह मेडिकल स्टोर भी नर्सिंग होम संचालक का बताया जा रहा है। लेकिन टीम ने मेडिकल स्टोर को सील नहीं किया है।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

http://upkiran.org/4972

Related News