कारगिल से लेकर संसद पर हमले तक, भाजपा सरकार में ही बढ़ीं हैं आतंकी गतिविधियां

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

लखनऊ।। जब-जब भाजपा सरकार रही तब-तब सीमाएं असुरक्षित रहीं और ख़ुफ़िया तंत्र फेल। जिसकी वजह से आम नागरिक और वीर सैनिकों को जान देकर कीमत चुकानी पड़ी। कारगिल से लेकर संसद हमले तक की हरकतें भाजपा सरकार के दौर में ही हुई।

वहीं कल शाम हुए हमले में अब तक 7 लोगों के मौत की खबर आई है। वहीं 30 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। इस हमले के बाद पूरे देश में सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट कर दिया गया है। वहीं घायल 32 श्रद्धालुओं को इलाज के लिए एयरलिफ्ट कर दिल्ली लाया गया है।जब नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री नहीं बने थे तो वह आतंकी हमलों पर कड़ी निंदा की बजाय कार्रवाई करने की बात कहते थे लेकिन जबसे उनकी सरकार बनी है आतंकी हमलों की बरसात हो रही है। आतंकियों के इस हमले ने भाजपा सरकार के दावों की पोल खोल कर रख दी है।

साल 2001 में एक कैंप पर आतंकियों ने 2 हथगोले फेंके थे, जिसमें 12 लोग मारे गए थे और 15 लोग घायल हुए थे। 06 अगस्त 2002 को जम्मू कश्मीर में अमरनाथ यात्रियों के एक कैंप पर आतंकियों ने हमला किया, जिसमें 10 से ज्यादा लोग मारे गए और 20 अन्य घायल हुए थे।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

http://upkiran.org/5102

Related News