चुनावी बिगुल के साथ राममंदिर के लिए यज्ञ शुरू

img

लखनऊ ।। अयोध्या में रामलला का भव्य मंदिर बनाने के लिए विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने यज्ञ की तैयारी शुरू कर दी है। पहले चरण का नामांकन आज शुरू ही हुआ है। इसके साथ ही संतों ने भी नई चुनौती देदी है। यह यज्ञ 17 जनवरी से शुरू होकर आठ फरवरी तक चलेगा। इस यज्ञ को भाजपा की नई चाल समझा जा रहा है।

विहिप के अंतरराष्ट्रीय महामंत्री चंपतराय, श्रीराम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपालदास समेत पांच लाख लोग इसमें आहुति डालेंगे। प्रयाग में संगम तट पर चल रहे माघ मेले के दौरान विश्व हिन्दू परिषद अयोध्या में राममंदिर के लिए विशेष अभियान शुरू कर रही है। केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल की बैठक में यह मुद्दा तय किया जा चुका है। संत सम्मेलन में भी यही मुद्दा इस बार विशेष रूप से उठाया जाएगा। संत समाज के विशेष अनुरोध पर विहिप के शीर्ष नेताओं ने माघ मेले में राजसूय यज्ञ कराने का निर्णय लिया है।

पहले दिन चंपतराय भी आहुति डालेंगे। इसके बाद अंतरराष्ट्रीय संगठन मंत्री दिनेश, नामी संत-महात्मा यज्ञ में आहुति डालने के लिए आएंगे। यज्ञ में प्रतिष्ठित पंडितों के अलावा सभी वेद विद्यालयों में शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्र मंत्रोच्चारण करेंगे। विहिप के जिला प्रवक्ता अश्वनी मिश्र ने इसकी पुष्टि की है। कहा कि तैयारियां कर ली गई हैं। प्रयाग में इस यज्ञ के बाद पूरे देश में इस तरह के आयोजन होंगे। इन यज्ञों के जरिए कुल 33 करोड़ लोगों से आहुति डलवाई जाएगी।

Related News