छात्रों ने कहा- धर्म के आधार पर चलाएंगे यूनिवर्सिटी तो फूंकेंगे सीएम का पुतला

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

इलहाबाद।। लखनऊ में सीएम को काला झंडा दिखाने के बाद उसका विरोध अभी तक जारी है। इसी कड़ी में इविवि में भी सीएम योगी का पुतला दहन करने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ उपाध्यक्ष अदील हमजा के परिसर में प्रवेश पर रोक लगाने के खिलाफ छात्र नेताओं ने सोमवार को चीफ प्रॉक्टर का घेराव कर प्रदर्शन भी किया और 72 घंटों के अंदर निलंबन वापस न लेने पर घेराबंदी की बात कही है।

छात्रों ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार में चीफ प्रॉक्टर रामसेवक दुबे विश्वविद्यालय को धार्मिक आधार पर चलाना चाहते हैं। सीएम का पुतला दहन करना किस संविधान के तहत गलत है। प्रॉक्टर के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की गई।

हमजा ने कहा, देश के किस कानून में लिखा है कि पीएम या सीएम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करना गैरकानूनी है, आप नोटिस को गौर से पढ़ें तो आपको खुद स्पष्ट होगा कि मेरे खिलाफ जो आरोप लगाए हैं उसमें गैरसंवैधानिक तर्क दिए गए हैं।

हमजा ने ये भी कहा कि ये लोकतंत्र की हत्या करने जैसा कृत्य है लगता है कार्रवाई करके वि.वि. प्रशासन संघ के लोगों को खुश करना चाहते है ताकि परिसर को धार्मिक तौरतरीकों से चलाया जा सके।

छात्रों का कहना है कि प्राक्टर दुबे इसी तरह धर्म के आधार पर यूनिवर्सिटी चलायेंगे तो सीएम योगी का पुतला फूंका जायेगा।

आदील हमजा ने कहा कि चीफ प्रॉक्टर को 72 घंटे की चेतावनी दी गई है। अगर 72 घंटे में निलंबन ना वापस लेने पर कर्नलगंज थाने का घेराव कर चीफ प्रॉकटर और कुलपति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

 

http://upkiran.org/4172

Related News