योगीराज में जनता ने पुलिसवाले को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

कानपुर।। यूपी के कानपुर में जागृति नर्सिंग होम में रेप के प्रयास की घटना के बाद उसे बंद करवाने की मांग को लेकर शनिवार सुबह जमकर उत्पात हुआ। सुबह करीब 9 बजे सैकड़ों लोगों की भीड़ बाईपास पर हंगामा करने लगी। पुलिस के समझाने पर भीड़ उग्र हो गई।

लाठीचार्ज और पथराव में भीड़ ने एक दरोगा को पीटकर अधमरा कर दिया। उसे एक इंस्पेक्टर ने रिवॉल्वर दिखाकर बचाया। तीन घंटे चले उत्पात में 5 पुलिसवाले घायल हुए हैं। बर्रा थाने में 28 नामजद समेत 300 अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट लिखी गई है। देर रात तक 20 लोग गिरफ्तार कर लिए गए थे। वहीं नाबालिग पीड़िता ने दूसरा मेडिकल करवाने से मना कर दिया है।

यहां जबरदस्त तोड़-फोड़ और पथराव हुआ और मोर्चा ले रही पुलिस पर यहां भी जमकर पत्थर बरसे। नर्सिंग होम के सामने वाली गली से सैकड़ों लोगों ने पुलिसवालों को दौड़ा लिया। इस बीच पुलिस फोर्स, पीएसी के साथ डीएम सुरेंद्र सिंह और अन्य सीनियर अधिकारी मौके पर पहुंचे।

पुलिस के बढ़ते दबाव के बाद उपद्रवियों के हौसले पस्त हुए। बर्रा थाने में नर्सिंग होम प्रशासन और पुलिस ने 7 सीएलए, सरकारी काम में बाधा डालने और अन्य संगीन धाराओं में एफआईआर लिखी गई थी।

कर्रही गांव में देर रात तक चली छापेमारी में 15-20 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर लिया गया था। सूत्रों का कहना है कि एक युवती ने ही भीड़ को एकजुट कर उकसाया।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

 

http://upkiran.org/4083

Related News