योगी के लिए हेलीपैड बनाने में किसान हो गए बर्बाद, मिला 5 हजार मुआवजा

img

www.upkiran

यूपी किरण ब्यूरो

गोरखपुर।। यूपी के गोरखपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ के क्षेत्र में एक बहुत ही शर्मनाक मामला सामने आया है। सीएम योगी के कार्यक्रम के लिए खेतों में बनें हेलीपैड से किसानों का बहुत अधिक नुकसान हुआ है।

खेत में लगे 25000 के केले के पेड़ बर्बाद कर डाले और जब किसानों को मात्र 5000 का मुआवजा दिया गया। इससे किसानों का बहुत नुकसान हुआ है। दो किसानों को तो मुआवजा भी नहीं मिला है। कार्यक्रम में शामिल होने आये लोगों की वजह से भी कई किसानों की फसल को नुकसान हुआ।

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ गोरखपुर से हैरान करने वाली खबर सामने आ रही है। कैम्पियरगंज के हरनामपुर गांव के हनुमानगंज चौराहे पर सीएम के कार्यक्रम के लिए बने हेलीपैड वाले खेत के किसानों को बहुत कम मुआवजा मिला।

खबर के मुताबिक, सीएम योगी की व्यवस्था के लिए पीडब्ल्यूडी ने 35 लाख का टेंडर निकला था यानि कि इतना धन कम से कम खर्च तो हुआ ही लेकिन किसानों के खेत का मुआवजा देने में खूब कंजूसी की गई।

प्रशासन ने 20 गुणे 20 मीटर क्षेत्र में हेलीपैड बनाया था और उसके चारो और 60 गुणे 60 मीटर क्षेत्र में बैरीकेडिंग की गई थी मुख्यमंत्री के हेलीकाप्टर को लैंड करने के लिए जिस स्थान पर हेलीपैड बनाया गया वह साधूचरण, हरिओम, सुकुर अली व मिश्री चौहान का खेत है।

मिश्री चौहान ने अपने खेत में केले लगाये थे। फसल 15 दिन बाद तैयार हो जाती तो उसकी विक्रय से 25 हजार रूपये मिलते। प्रशासन पूरा मुआवजा देने में हीलाहवाली कर रहा है। 25 हजार से ज्यादा केले के पेड़ काटे गए हैं।

हेलीपैड के बगल में विद्यावती देवी की रिहायशी झोपड़ी थी जिसे प्रशासन ने हटा दिया। विद्यावती ने बताया कि प्रशासन की ओर उसे सिर्फ 5 हजार रूपये दिये गये हैं। साधूशरण को तो मुआवजे के रूप में एक रुपया नहीं मिला है।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

http://upkiran.org/3991

Related News