शहीद का बेटा बोला पहले जवानों का सिर लाओ, फिर खेलो क्रिकेट

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

लखनऊ।। शहीद प्रेम सागर के बेटे ईश्वर चन्द ने कहा कि सरकार को शहीद के परिवारों का दुःख समझना चाहिए। साथ ये भी कहा कि क्रिकेट से मिलने वाला पैसा आतंकियों को देते हैं, वो धोखेबाज और गद्दार है।

हम पीएम मोदी और बीसीसीआई से अपील करते हैं कि इस इंडिया-पाकिस्तान के मैच पर प्रतिबन्ध लगाए।

पिछले महीने जम्मू में शहीद हुए प्रेम सागर के शव के साथ पाकिस्तान के सैनिकों ने बर्बरता की थी। शहीद के परिजनों ने अब चैम्पियंस ट्रॉफी में 4 जून को इंडिया-पाकिस्तान के बीच होने वाले क्रिकेट मैच का विरोध कर रहा है।

कानपुर के शहीद आयुष के पिता अरुण यादव ने कहा कि भारत-पकिस्तान का मैच होने से तकलीफ तो है लेकिन अपना दर्द किसको बताएं। कैप्टन आयुष 27 अप्रैल को कुपवाड़ा में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में शहीद हुए थे।

वहीं, शहीद हेमराज के भाई का कहना है कि वह हमारे भाई का सर काट कर ले गए हैं और हम मैच खेल रहे हैं यह शहीदों का घोर अपमान है। सरकार को वादा करना चाहिए इस मैच को कैंसिल कर आगे भी कोई मैच पाकिस्तान के साथ न खेलें। सरकार को एक्शन लेना चाहिए लेकिन यहां सरकार अपना फायदा देख रही है।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

 

http://upkiran.org/3531

Related News