उत्तर प्रदेश में बीजेपी को हुआ भारी नुकसान, बड़े नेता ने दुनिया को कहा अलविदा

img

यूपी बीजेपी के पूर्व सह प्रभारी और मौजूदा वक्त में बिहार बीजेपी के सह प्रभारी सुनील ओझा नहीं रहे। आज ओझा के निधन की जानकारी मिलते ही यहां कार्यकर्ता और पदाधिकारी शोकाकुल हो गए। कार्यकर्ता और सोशल मीडिया के अलग अलग प्लेटफार्म पर दिग्गज नेता को श्रद्धांजलि देते रहे।

बीजेपी कार्यकर्ताओं ने कहा कि सुनील ओझा के असमय देवलोकगमन के समाचार से स्तब्ध हैं। आज बीजेपी परिवार काशी क्षेत्र ने अपना एक कुशल संगठनकर्ता व परिजन को खोया है।

पीएम मोदी के संसदीय कार्यालय के प्रभारी शिवशरण पाठक ने श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि सुनील ओझा जी की मृत्यु एक अपूरणीय क्षति है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करे सादर विनम्र श्रद्धांजलि।

आपको बता दें कि सुनील ओझा मूल रूप से गुजरात के भावनगर जनपद के रहने वाले थे और पीएम मोदी के करीबी नेताओं में से एक माने जाते थे। सुनील ओझा भावनगर साउथ से बीजेपी विधायक भी रह चुके थे। सुनील ओझा को उत्तर प्रदेश से हटा कर बिहार का सह भाजपा प्रभारी कुछ माह पहले ही पार्टी नेतृत्व ने बनाया था। 

Related News