अब और एक्टिव होगा बिहार सरकार का संजीवन ऐप, मिलती हैं ये सुविधाएं

आरोग्य सेतु ऐप के तर्ज पर बनाया गया यह ऐप कोरोना का इलाज करा रहे मरीजों का रास्ता आसान बना देगा।

पटना॥ कोरोना वायरस के प्रति सजग और सतर्क करने के लिए बिहार सरकार द्वारा डेवलप किए गए संजीवन ऐप की उपयोगिता और महत्व को बढ़ावा देने के साथ आमजनों तक इसका लाभ सुनिश्चित करने की कवायद स्वास्थ्य विभाग ने तेज कर दी है। आरोग्य सेतु ऐप के तर्ज पर बनाया गया यह ऐप कोरोना का इलाज करा रहे मरीजों का रास्ता आसान बना देगा।

sanjeevan app will be active now

यह कोरोना संक्रमण काल में ऐसी सभी सुविधाएं उपलब्ध कराता है जिसकी जरूरत एक आम नागरिक ही नहीं उपचाराधीन को भी होती है। बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक ने सिविल सर्जन को ‘संजीवन ऐप’ का पूर्णतया उपयोग करने एवं निवारण के संबंध में पत्र लिखकर इसे विशेष रूप से एक्टिव बनाए जाने को कहा है।

होम आइसोलेशन की पूरी जानकारी :

कोरोना संक्रमण से बचाव और सुविधा संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी आमजनों तक उपलब्ध कराने के लिए ‘संजीवन ऐप’ विकसित किया गया है। इसे गूगल प्ले स्टोर या स्वास्थ्य विभाग बिहार सरकार या बिहार राज्य स्वास्थ समिति के वेबसाइट से डाउनलोड एवं इंस्टॉल कर उपयोग किया जा रहा है। संजीवन ऐप का प्रशिक्षण वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जिला अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी को दिया गया है। राज्य स्तर से भी इसका प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। जिला अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी संजीवन ऐप के माध्यम से होम आइसोलेशन के लिए किए गए स्व-घोषणा को कोविड-19 बिहार वेब पोर्टल पर अप्रूव या रिजेक्ट करना सुनिश्चित करेंगे। जिससे स्व-घोषणा करने वाले मरीजों को स्वास्थ सुविधा उपलब्ध कराई जा सके।

ओटीपी प्राप्त करते ही लिया जाएगा सेंपल :

संजीवन ऐप के माध्यम से प्राप्त होने वाली सभी शिकायतों का तत्काल निवारण करते हुए उक्त पोर्टल पर दर्ज किया जाएगा, ताकि शिकायतकर्ता को शिकायत निवारण की जानकारी प्राप्त हो सके। जिले में कोविड-19 जांच के लिए कार्यरत सभी सेम्पल कलेक्शन सेंटर कोविड जांच के लिए ‘संजीवन ऐप’ के माध्यम से स्वयं पंजीकृत व्यक्तियों से ओटीपी प्राप्त करते ही सैंपल लिया जाएगा एवं पोर्टल पर दर्ज करते हुए सैंपल जांच की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

संजीवन ऐप में मिलती हैं ये सुविधाएं :

इस ऐप के माध्यम से कोविड-19 जांच के लिए स्वयं पंजीकरण, नजदीकी जांच केंद्र एवं आइसोलेशन सेंटर की जानकारी मिलती है। कोविड-19 जांच का परिणाम, होम आइसोलेशन के लिए स्व-घोषणा, चैट बॉक्स की सुविधा तथा नजदीकी कोविड स्वास्थ्य केंद्र और आइसोलेशन सेंटर में बेड की उपलब्धता भी प्राप्त होती है। इसके अलावा कोरोना के संबंध में प्रश्न पूछने की सुविधा, जानकारी की उपलब्धता एवं फीडबैक देने की सुविधा भी है। नियंत्रण कक्ष के दूरभाष संख्या, मोबाइल और टोल फ्री नंबर की जानकारी देता है। एंबुलेंस के लिए चिकित्सक की सलाह एवं टोल फ्री नंबर पर सीधे डायल करने की सुविधा भी दी जा रही है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *