त्रिवेंद्र सरकार के खिलाफ ये राजनीतिक पार्टी चलायेगी आंदोलन, जानें क्यों

प्रीतम सिंह ने अपने अध्यक्षीय संबोधन में कहा कि बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूती से खड़ा करने का बड़ा अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में केंद्र व राज्य सरकार कहीं भी जनता के साथ नहीं दिखाई दीं।

देहरादून॥ कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने आज चमोली जिला के वर्चुअल सम्मेलन में राज्य में बढ़ती बेरोजगारी, महंगाई, देवस्थानम बोर्ड के गठन के साथ ही कोरोना काल में सरकार की विफलता के खिलाफ चरणबद्ध आंदोलन की घोषणा करके मोर्चा खोल दिया। यह आंदोलन 12 सितम्बर से शुरू होगा। जिसमें विधानसभा घेराव से लेकर जिला मुख्यालय, ब्लॉक स्तर पर धरना कार्यक्रम होंगे।

cm trivendra singh rawat

शनिवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने वर्चुअल रैली में पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्साहवर्धन करते हुए त्रिवेंद्र सरकार के खिलाफ संघर्ष का एलान किया। प्रीतम सिंह ने अपने अध्यक्षीय संबोधन में कहा कि बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूती से खड़ा करने का बड़ा अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में केंद्र व राज्य सरकार कहीं भी जनता के साथ नहीं दिखाई दीं। कांग्रेस जनता के सरोकारों को लेकर लगातार संघर्ष जारी है। परिणामस्वरूप कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ता पर किये गए मुकदमे से जाना जा सकता है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता के हित में कांग्रेस लगातार जनता के सवालों पर संघर्ष को लेकर तैयार है। प्रीतम सिंह ने बताया कि बेरोजगारी के खिलाफ ब्लॉक नगर जिला मुख्यालयों पर बेरोजगारी के खिलाफ 12 सितम्बर को शारीरिक दूरी के नियम का पालन करते हुये 40 कार्यकर्ता धरना देंगे 23 सितम्बर को पांच सूत्री कार्यक्रम को लेकर विधानसभा के समक्ष धरना होंगा। कांग्रेस की पांच प्रमुख मांगों में किसानों के कर्ज माफी व गन्ना किसानों का भुगतान, बेरोजगारी, कोरोना में सरकार की लापरवाही, देवस्थानम बोर्ड के गठन के कानून को खारिज करने और महंगाई को नियंत्रित करने की मांग की है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close