अभी- अभी- यूपी के इस जिले में हुआ बड़ा धमाका, हुई 7 लोगों की दर्दनाक मौत, सात जख्मी

पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मौके पर, युद्ध स्तर पर राहत बचाव कार्य जारी

गोण्डा॥ जिले के वजीरगंज थाना क्षेत्र के टिकरी गांव में अर्ध रात्रि को सिलेंडर ब्लॉस्ट से मलबे के नीचे दबने के कारण सात लोगों की मौत हो गई है, जबकि सात लोग गंभीर रूप से जख्मी हैं। जिन्हें जिला अस्पताल में प्राथमिक इलाज के बाद लखनऊ के ट्रामा सेंटर रिफर कर दिया गया है।

हालांकि ब्लॉस्ट को लेकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। मंगलवार की रात्रि उक्त गांव में नूरल हसन के घर अचानक ब्लॉस्ट होने से पूरे गांव में हाहाकार मच गया। इस भीषण हादसे में मकान पूरी तरह से जमींदोज हो गए। मलबे में अभी और लोगों के दबे होने की आशंका जताई जा रही है।

मृतकों में दो पुरुष, दो महिलाएं तथा 3 बच्चे शामिल हैं। ग्रामीणों द्वारा रात्रि में ही डायल 112 को सूचना दी गई। पुलिस को सूचना मिलने के बाद कई थानों की फोर्स एसपी संतोष कुमार मिश्र आईजी राकेश सिंह मौके पर कैंप कर रहे हैं। प्रशासन द्वारा एक जेसीबी व पोकलैंड मशीन से मलबे को हटाने का कार्य युद्ध स्तर पर जारी है।

राहत बचाव कार्य जारी

ब्लॉस्ट के कारणों का पता लगाने के लिए फॉरेंसिक टीम को लगाया गया है। पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्र ने बताया कि थाना वजीरगंज टिकरी क्षेत्र से डायल 112 पर सूचना मिली कि सिलेंडर ब्लॉस्ट के बाद मकान की छत गिर गई है। सूचना के बाद तत्काल आईजी व व मौके पर पहुंचे प्रशासन व ग्रामीणों की सहायता से राहत बचाव कार्य जारी है।

अब तक मलबे के नीचे दबे 14 लोगों को निकाल कर अस्पताल भेजा गया। जिनमें 7 लोगों की मौत हो गई है। मृतकों में दो पुरुष, 2 महिलाएं तथा 3 बच्चे शामिल हैं। गंभीर रूप से जख्मी हुए लोगों का इलाज चल रहा है। प्रशासन व पुलिस तथा ग्रामीणों की मदद से राहत बचाव कार्य जारी है।

फॉरेंसिक सहित अन्य टीमों को भी यहां बुलाया गया है। ब्लॉस्ट के विषय में उन्होंने बताया कि जो प्रारंभिक सूचना मिली है उसके मुताबिक सिलेंडर ब्लॉस्ट से छत गिरना बताया जा रहा है। अभी हमारी प्राथमिकता राहत व बचाव कार्य की है। जो भी तथ्य सामने आते हैं उस हिसाब से आगे की कार्यवाही की जाएगी। फिलहाल घटना की बारीकी से जांच की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *