सहकारी गन्ना विकास समिति के कार्यालय में तालाबंदी, भूख हड़ताल पर बैठे कर्मचारी, जानें क्यों

प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों में से चार कर्मियों ने इस फैसले के विरोध में भूख हड़ताल शुरू कर दी है।

देहरादून॥ सहकारी गन्ना विकास समिति लक्सर प्रबंधन द्वारा 50 प्रतिशत सीजनल कर्मियों को ड्यूटी न देने को लेकर कर्मचारियों ने कार्यालय पर तालाबंदी कर कामकाज ठप कर दिया है। प्रदर्शन कर रहे कर्मचारियों में से चार कर्मियों ने इस फैसले के विरोध में भूख हड़ताल शुरू कर दी है।

hunger strike

लक्सर गन्ना विकास समिति के 38 सीजनल कर्मचारियों में से 19 कर्मियों को एक अक्टूबर से ड्यूटी मिल गई है। बाकी के 19 कर्मचारी ड्यूटी की मांग को लेकर उसी दिन से धरने पर बैठे हुए हैं। गन्ना आयुक्त व सहायक गन्ना आयुक्त को ज्ञापन देने के बाद भी कर्मचारियों की बात पर कोई ध्यान नहीं देने के कारण गुस्साए कर्मचारियों ने कार्यालय पर तालाबंदी कर कामकाज ठप कर दिया है। चार लिपिक अमित रावल, राज सिंह, अरविंद कुमार व दीपक कुमार भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं।

कर्मचारियों का कहना है कि उन्हें जब तक ड्यूटी नहीं दी जाती उनका आंदोलन जारी रहेगा। उधर, कम्प्यूटर के काम व पिछली बैलेंस शीट आदि बनाने के लिए प्राइवेट कंपनियों से ठेके पर काम लिया जा रहा है। ऐसे में कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि अगर समिति प्रबंधन ने शीघ्र उन्हें काम नहीं दिया तो वे सभी लोग अपने परिवार सहित सड़क पर उतरकर धरने पर बैठ जाएंगे।

इस मामले में गन्ना विकास समिति के प्रभारी सचिव गौतम नेगी ने बताया कि डीसीओ के आदेश के आधार पर 19 कर्मियों को काम पर रखा गया था। अगर अधिकारी पुनः आदेश करेंगे तो शेष कर्मियों को डयूटी दे दी जायेगी।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *