मां-बाप से झगड़े के बाद घर से भागी नाबालिग, 22 दिन तक दो लोगों ने किया गैंगेरप

उसे ओएमपी स्क्वायर पर बस स्टेशन के पास एक व्यक्ति ने अगवा कर लिया और उसे घर वापस ले जाने का वादा किया था, लेकिन तीर्थोल जाने के बजाय, युवक उसे चौलीगंज थाना क्षेत्र के गातिरौतपटना गांव में मुर्गी फार्म में ले गया और उसे 22 दिनों तक जबरदस्ती एक कमरे में कैद करके रखा। जहां दो लोगों ने खेत में उसके साथ बार-बार बलात्कार किया।

नयी दिल्ली। ओडिशा के कटक में  एक17 वर्षीय नाबालिग लड़की अपने मां-बाप से झगड़े के बाद घर से भाग गई। जहां एक शख्स ने उसे अगवा कर लिया उसके साथ 22 दिनों तक गैंगरेप करता रहा।  पीड़िता जगतसिंहपुर जिले के तीर्थोल की रहने वाली है।

rape 7

उसे ओएमपी स्क्वायर पर बस स्टेशन के पास एक व्यक्ति ने अगवा कर लिया और उसे घर वापस ले जाने का वादा किया था, लेकिन तीर्थोल जाने के बजाय, युवक उसे चौलीगंज थाना क्षेत्र के गातिरौतपटना गांव में मुर्गी फार्म में ले गया और उसे 22 दिनों तक जबरदस्ती एक कमरे में कैद करके रखा। जहां दो लोगों ने खेत में उसके साथ बार-बार बलात्कार किया।

अधिकारियों ने मीडिया को बताया कि लड़की को उस वक्त बचा लिया गया जब स्थानीय लोगों द्वारा पुलिस पर हमला करने के बाद खेत पर छापा मारा गया था। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि आरोपियों में से एक को गिरफ्तार भी कर लिया गया और दूसरे को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

कटक शहर के पुलिस उपायुक्त प्रतीक सिंह ने कहा, “आरोपी के फरार दोस्त को पकड़ने के लिए एक पुलिस टीम बनाई गई है। उन्होंने कहा कि बाद में उसे जिला बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) के समक्ष पेश किया गया, जहां से उसे अनाथालय भेज दिया गया।

इस घटना के बाद राज्य में विपक्षी पार्टी बीजेपी और कांग्रेस ने इस मामले को लेकर की तीखी आलोचना की और राज्य में बीजेडी सरकार पर तीखा हमला किया। बीजेपी की राज्य महासचिव लेखीश समरसिंघर ने नवीन पटनायक सरकार पर महिलाओं की सुरक्षा और सुरक्षा सुनिश्चित करने में विफल रहने का आरोप लगाया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *