Rinku Sharma murder case: परिवार व पुलिस सुना रहे अपनी-अपनी कहानी, जानें पूरी सच्चाई

रिंकू शर्मा की हत्या (Rinku Sharma murder case) का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। पीड़ित परिवार पुलिस की दलील से सहमत नहीं है। रिंकू शर्मा के परिजनों ने न्याय की मांग की है।

नई दिल्ली। रिंकू शर्मा की हत्या का मामला (Rinku Sharma murder case) तूल पकड़ता जा रहा है। पीड़ित परिवार पुलिस की दलील से सहमत नहीं है। रिंकू शर्मा के परिजनों ने न्याय की मांग की है। रिंकू की हत्या को बीते 24 घंटे से ज्यादा वक्त हो गए हैं, लेकिन पुलिस अब तक परिवार के लोगों को किसी भी तरह का भरोसा नहीं दिला पाई है। परिवार और पुलिस एक दूसरे की दलील को खारिज कर रहे हैं।
Rinku Sharma massacre

जस्टिस फॉर रिंकू शर्मा का हैशटैग ट्रेंड कर रहा (Rinku Sharma murder case)

वहीं ट्विटर पर जस्टिस फॉर रिंकू शर्मा का हैशटैग सुबह से ट्रेंड कर रहा है। इस हैशटैग पर लोग रिंकू शर्मा को न्याय दिलाने के लिए अपनी बात रख रहे हैं, जिससे बड़ी संख्या में लोग जुड़ रहे हैं।
World Radio Day: कहीं ऐसा न हो रेडियो की आवाज गुम हो जाए, आइए एक बार फिर बने इसके हमसफर

पांचवें आरोपी को भी गिरफ्तार किया गया (Rinku Sharma murder case)

दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में बुधवार रात को रिंकू शर्मा की लाठी डंडों व धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर दी गई थी। दिल्ली पुलिस ने वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों में से पांचवें आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के साथ बीएसएफ के जवानों को भी तैनात किया गया

इलाके में शांति बनाए रखने के लिए पुलिस के साथ बीएसएफ के जवानों को भी तैनात किया गया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि लोगों से कहा गया है कि वे किसी भी अफवाह पर ध्यान नहीं दें, बल्कि अफवाह फैलाने वाले के बारे में तुरंत पुलिस को खबर दें। पुलिस ने इलाके में शुक्रवार को ड्रोन की मदद से निगरानी रखी।

रेस्टोरेंट मालिक के बयान के बाद आया नया मोड़ (Rinku Sharma murder case)

घटना में शुक्रवार को एक नया मोड़ रेस्टोरेंट के मालिक के बयान के बाद आया। उसने बताया कि वहां पर कोई केक नहीं कटा और न ही कोई झगड़ा हुआ था। वहां पर रिंकू ने खाना खाया था। उसके बाद सभी वहां से चले गए थे।

सीसीटीवी कैमरों की फुटेज जब्त

अब पुलिस रेस्टोरेंट मालिक से भी पूछताछ कर रही है। वहां लगे आधा दर्जन से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को जब्त कर लिया गया है और हत्या की वजह तक पहुंचने के लिए पकड़े गए पांचों आरोपितों से दोबारा पूछताछ कर रही है।
स्वर्णिम मशाल को शाहजहांपुर गैरीसन पब्लिक स्कूल के बच्चों ने अपनी कला से दी श्रद्धांजलि

परिवार को ही खत्म कर देने की थी पूरी कोशिश

रिंकू के परिवार वालों ने बताया कि आरोपियों ने पूरी कोशिश की थी कि मारपीट के दौरान घर में रखे सिलेंडर में विस्फोट कर परिवार को ही खत्म कर दें। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। (Rinku Sharma murder case)
आरोपियों ने रिंकू को लाठी डंडों से दौड़ा दौड़ाकर मारा। जब वह मूर्छित हो गया तो उसके शरीर पर ताबड़तोड़ चाकू गोदकर उसकी हत्या कर दी। जब परिवार वाले घर से बाहर निकले तो खून से लथपथ शव स्थिति में रिंकू का शरीर गली में पड़ा मिला।

अस्पताल में भी चाकू दोबारा घोपा गया!

परिवार के लोगों का यहां तक आरोप है कि जब रिंकू को पड़ोसी की स्कूटी से अस्पताल पहुंचाया गया तो वहां भी जब डॉक्टर रिंकू की पीठ पर गोदा गया चाकू निकाल रहे थे तो आरोपियों में से एक ने डॉक्टरों से हाथापाई की और दोबारा चाकू उसके शरीर में अंदर तक गोद दिया।
आखिरकार पीछे हटी चीनी सेना, अब भारत की अगली नजर ​डेप्सांग प्लेन्स पर

फुटेज खंगालकर सच्चाई पता करने की कोशिश कर रही पुलिस (Rinku Sharma murder case)

इस मामले में पुलिस मौके पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालकर सच्चाई पता करने की कोशिश कर रही है। इस बारे में पुलिस डॉक्टरों और वहां पर मौजूद सुरक्षा गार्डों का भी बयान दर्ज करने की कोशिश कर रही है।

दोनों पक्षों की अलग-अलग रेस्तरां में हिस्सेदारी थी- पुलिस

बाहरी दिल्ली के एडिशनल डीसीपी ने बताया कि मृतक रिंकू शर्मा के मित्र का रेस्तरां लॉकडाउन की वजह से बंद हो गया था। इसी मामले में झगड़ा शुरू हुआ था। झगड़ा बढ़ते-बढ़ते चिंगू उर्फ जाहिद वहां से चले गए। इसके बाद वह अपने मामा और तीन चार रिश्तेदारों को लेकर रिंकू के घर पहुंचे थे। जाहिद के मामा दानिश उर्फ लाली का घर मृतक के घर की गली में ही था। यहीं पर इनके बीच झगड़ा शुरू हुआ, जिस दौरान रिंकू को चाकू मार दिया गया।

किसी भी तरह का सांप्रदायिक एंगल सामने नहीं आया (Rinku Sharma murder case)

इसके बाद रिंकू को अस्पताल ले जाया गया, जिसके बाद इलाज के दौरान रिंकू की मृत्यु हो गई। धामा ने बताया, इस मामले में शामिल लोगों को तभी गिरफ़्तार कर लिया गया था, इन चारों का आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। अभी तक इस मामले में किसी भी तरह का सांप्रदायिक एंगल सामने नहीं आया है। ये पूरी तरह एक व्यापारिक प्रतिद्वंद्विता का मामला है। ये लोग एक दूसरे के पड़ोस में रहते थे और एक दूसरे को जानते थे, ऐसे में कुछ कोई बात नहीं है कि सांप्रदायिक वैमनस्य का मामला हो।

रेस्तरां को लेकर झगड़ा हुआ

उन्होंने बताया कि बीते परसों रात कुछ लडक़े बर्थ-डे पार्टी के लिए मंगोलपुरी के इलाके में इकट्ठा हुए थे। इसी पार्टी के दौरान इन लोगों के बीच एक रेस्तरां को लेकर झगड़ा हुआ है। दोनों पक्षों की अलग-अलग रेस्तरां में हिस्सेदारी थी। मृतक की कोई हिस्सेदारी नहीं थी लेकिन इनके मित्र हैं सचिन और आकाश जिनका रेस्तरां था। इसके साथ ही चिंगू उर्फ जाहिद ने रोहिणी में एक रेस्तरां खोला था।

परिवार को पुलिस और पुलिस को परिवार की थ्योरी पर यकीन नहीं (Rinku Sharma murder case)

रिंकू हत्याकांड के बाद पुलिस और परिवार एक दूसरे की बात पर यकीन नहीं कर रहे हैं। दोनों को एक दूसरे की थ्यौरी पर यकीन नहीं हो रहा है। बाहरी जिला के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त का कहना है कि जयश्री राम के नारे पर विवाद की बात गलत है, रेस्टोरेंट वाली बात सही है।

कई एंगल से जांच चल रही

दिल्ली पुलिस प्रवक्ता का कहना है कि अभी जो तथ्य सामने आए हैं, उनको लेकर जांच की जा रही है। वह परिवार के भी संपर्क में हैं। मामले की कई एंगल से जांच चल रही है। पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षों के लोग एक दूसरे को जानते थे और रेस्टोरेंट बंद करवाने को लेकर यह झगड़ा शुरू हुआ था। पुलिस ने इस घटना के पीछे के बाकी सभी एंगल को तथ्यात्मक रूप से गलत बताया है।

रिंकू शर्मा का परिवार बोला (Rinku Sharma murder case)

लेकिन रिंकू शर्मा के परिवार का कहना है कि जैसा पुलिस कह रही है, वह सही नहीं है। पुलिस मामले को हल्का बनाने की कोशिश कर रही है, जिससे वह काफी आहत महसूस कर रहे हैं। शोभा यात्रा पर जय श्रीराम के नारे लगाना और फिर राम मन्दिर के लिए चंदा लेने को लेकर आरोपी गुस्से में थे।

पीएम को को भी बोलते थे अपशब्द

वह हमारे सामने  प्रधानमंत्री को भी उल्टा सीधा बोलाकर हमको उकसाते थे। ऐसा कई बार हुआ, लेकिन हर बार उन्होंने संयम से काम लिया था। एक दो बार जब कहासूनी भी हुई तो उन्होंने पुलिस तक मामले को जाने नहीं दिया,बल्कि वहीं पर मामले को शांत कर दिया था। (Rinku Sharma murder case)

आरोपियों और उनके जानकारों के घर तोड़फोड़

शुक्रवार को रिंकू  के जानकारों ने आरोपितयों और उनके जानकारों के घरों पर तोडफ़ोड़ की। उनको धमकियां भी दी, जिससे वहां भगदड़ का माहौल बन गया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लोगों को शांत किया। लोगों ने बताया कि रिंकू की हत्या के बाद इलाके में काफी दहशत का माहौल है। जिस तरह से रिंकू के घर पर लोगों का आना जाना लग है, उससे आरोपियों और उनके जानकारों में काफी दहशत है। वे लोग अपने-अपने घरों में ताले लगाकर परिचितों के यहां चले गए हैं। (Rinku Sharma murder case)

राम जैसा बेटा था रिंकू (Rinku Sharma murder case)

रिंकू की मां राधा ने कहा कि मेरे राम जैसे बेटे को मार दिया। वे लोग हम पांचों को मारने आए थे। मेरे बेटे ने आखिरी समय में भी जय श्रीराम का नारा लगाया। मेरे सामने मेरे बेटे को मार दिया। हत्यारे जय श्रीराम के नारे से चिढ़ते थे। मेरा बेटा राम और हनुमान का भक्त था। मां की आंखों के सामने हत्यारे बेटे को चाकू घोंपते रहे। पूरी गली खून से भर गई थी। इस तरह की हिंसक प्रवृत्ति वाले अपराधियों को समाज में खुला छोडऩा समाज के लिए हानिकारक है। इस तरह के लोगों को जल्द से जल्द सजा मिलनी चाहिए।

दो बार दिया था खून (Rinku Sharma murder case)

रिंकू ने आरोपी मोहम्मद इस्लाम के भाई का कोविड होने पर इलाज कराया था। यही नहीं, जिस आरोपी इस्लाम ने रिंकू शर्मा की हत्या की, उसकी पत्नी की भी रिंकू ने तीन साल पहले रोहिणी स्थित एक अस्पताल में इलाज कराकर नई जिंदगी दी थी। रिंकू की हत्या (Rinku Sharma murder case) के बाद उसका परिवार काफी दहशत में है। परिवार वालों ने एक पत्र दिल्ली पुलिस आयुक्त को देकर अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है। इस पत्र में रिंकू के भाई ने आरोपियों का नाम लेकर कहा कि इन लोगों द्वारा मेरे परिवार पर लाठी-डंडों और चाकू से हमला किया गया था।

दिल्ली पुलिस आयुक्त को पत्र लिखकर सुरक्षा की गुहार लगाई

रिंकू की हत्या (Rinku Sharma murder case) के बाद से ही परिवार को सांत्वना देने के लिए नेताओं का तांता लगा रहा, जिसमें बजरंग दल, विश्व हिन्दु परिषद, भाजपा नेताओं और आप के नेता रहे। सांसद हंसराज हंस भी पीड़ित परिवार से मिलने आए। उन्होंने कहा कि रिंकू की हत्या ने पूरी दिल्ली को हिलाकर रख दिया है। भगवान रिंकू की आत्मा को शांति प्रदान करे।

राखी बिरला भी परिवार से मिली (Rinku Sharma murder case)

दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता, नंद किशोर गुर्जर, सुरेन्द्र जैन आदि लोगों ने मौके पर पहुंचकर परिवार को सांत्वना दी। आप पार्टी से विधायक राखी बिरला ने भी परिवार से मिलकर आरोपियों को सख्त से सख्त सजा दिलाने की बात कही है। दिल्ली से भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने सोशल-मीडिया पर वीडियो पोस्ट किया, जिसमें वे कह रहे हैं कि अगर रिंकू का नाम रेहान होता तो उसकी हत्या देश की सबसे बड़ी खबर होती। हर नेता उसके दरवाजे पर होता। (Rinku Sharma murder case)

विश्व हिंदू परिषद का ट्वीट

वहीं विश्व हिंदू परिषद ने Rinku Sharma murder case को लेकर एक बयान जारी करते हुए कहा, युवा राम भक्त रिंकू शर्मा की मॉब लिंचिंग कर दिल्ली में नृशंस हत्या करने वाले सभी जिहादियों को अबिलम्ब फांसी पर लटकाओ।  

ऐसी घटनाओं से मन दुखी होता है- योगेश्वर दत्त

भाजपा नेता और रेसलर योगेश्वर दत्त ने कहा है कि यह Rinku Sharma murder case दुखद है। ये हमारे देश की एकता की बात है और अगर ऐसी घटना होती है तो मन दुखी होता है। इस मामले में सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए। इस तरह की घटना और ऐसे असामाजिक तत्व के लोग हमारे देश के लिए बहुत बड़ा खतरा हैं। पीड़ित परिवार को न्याय मिलना चाहिए और हत्या की सही वजह सामने आनी चाहिए।
Earthquake से थर्राया पूरा उत्तर भारत, लोग घरों से बाहर निकले

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *