वायरस से निपटने के लिए हिंदुस्तान में होने जा रहा ऐसा, हो जाएं तैयार

हिंदुस्तान सरकार के स्वास्थ्य एवं सामाजिक आर्थिक प्रयासों को समर्थन दे रही हैं।

नई दिल्ली॥ UN की टीम ने निजी सुरक्षात्मक डिवाइसों की भी आपूर्ति की है। प्रवक्ता स्टीफन ने कहा कि सबसे संवेदनशील लोगों तक पहुंचने के उद्देश्य से, UN विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) ने एक लाख प्रवासी कामगारों को सामाजिक संरक्षण तक पहुंच देने और एक लाख सफाई कर्मियों तक सुरक्षा किटों और 4 हजार टन राशन पहुंचाने में सहायता की है।

Corona in india

विश्व स्वास्थ्य संगठन, यूएनडीपी, यूनिसेफ,  तथा आईएलओ आए आगे यह ‘सरकार नीत वैश्विक महामारी के स्वास्थ्य एवं सामाजिक आर्थिक परिणामों’ का समर्थन कर रही है जहां अब तक 43 लाख से अधिक मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

WHO ने 80 लाख मामलों में संपर्कों का पता लगाने में सहायता दी है जबकि UN बाल कोष (यूनिसेफ) ने 22 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को संक्रमण से बचाव एवं नियंत्रण में प्रशिक्षण दिया है और जीवन बचाने वाली सूचना के साथ 65 करोड़ बच्चों एवं परिवारों तक पहुंचा है।

हिंदुस्तान में तेजी से बढ़ते कोविड-19 संकट के प्रकोप के बीच UN की कई एजेंसियां इससे निपटने के लिए हिंदुस्तान सरकार के स्वास्थ्य एवं सामाजिक आर्थिक प्रयासों को समर्थन दे रही हैं। हिंदुस्तान में कोविड-19 के मामले 43 लाख के पार हो गए हैं। UN महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा कि हिंदुस्तान में UN टीम का नेतृत्व रेजिडेंट समन्वयक रेनाटा डेसालियन कर रहे हैं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *