ठाकुर साहब ने पटेल युवक को गोली से उड़ा दिया, तो गांव वालों ने लगा दी घर में आग

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

नई दिल्ली।। आखिर योगी सरकार में ही क्यों दलितों पर जुल्म और उत्पीड़न हो रहा है। योगी की सरकार बनने के बाद दलितों को जबरदस्ती निशाना बनाया जा रहा है। एक बार फिर जातीय दंभ में एक ठाकुर साहब ने पटेल युवक को गोली से उड़ा दिया।

मामला रायबरेली के महाराजगंज कोतवाली क्षेत्र निवासी सुमित चौधरी उर्फ शुभम पटेल के साथ का है। जहां वाहन टक्कर के मामली विवाद में संजीव कुमार सिंह ने गोली मार दी। गुस्साए ग्रामीणों ने संजीव के घर पर हमला करके उसकी गाड़ी में आग लगा दी।

महराजगंज कोतवाली क्षेत्र के हलोर निवासी 18 वर्षीय सुमित पटेल पुत्र जगत नारायण पटेल अपनी चचेरी बहन शालिनी को गुरुकुल महाविद्यालय पुरासी छोड़कर बाइक से घर लौट रहा था।

वहीं लालगंज कोतवाली क्षेत्र के सेमरपहा गांव निवासी सेना का जवान संजीव कुमार सिंह एक अन्य व्यक्ति के साथ कार से अपनी ससुराल हलोर जा रहा था।

मोहिनी का पुरवा गांव के पास ओवरटेक के दौरान कार की टक्कर से बाइक का इंडीकेटर टूट गया। शुभम ने इस पर नाराजगी जताई तो संजीव सिंह ने शुभम को पीट दिया। इसके बाद संजीव अपने ससुर दान बहादुर सिंह के घर पहुंच गया।

शुभम ने यह बात घर पहुंचकर परिजनों व ग्रामीणों को बताई तो 10-15 लोग दान बहादुर सिंह के घर पहुंच गए। मामले की शिकायत के बाद दान बहादुर सिंह से कहासुनी होने लगी। कहासुनी के बीच बात गाली गलौच तक पहुंच गई।

इसी बीच संजीव सिंह ने घर में रखी रिवॉल्वर से ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। गोली लगने से सुमित पटेल की मौत हो की गई और सुमित के चाचा और एक अन्य परिजन गंभीर रूप से घायल हो गए उन्हें लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया है।

मौके पर पुलिस पहुंच गई और दोनों को भीड़ से बचाते हुए थाने ले आई। इस बीच ग्रामीणों ने संजीव सिंह की कार को आग लगा दी और वहां रखे कई वाहन तोड़ डाले। भीड़ के पथराव में सीओ के चालक समेत छह पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

 

http://upkiran.org/3790

Related News