बैंक अफसर बन फोन पर इस तरह से निकाले 58 हजार रुपए, आप भी रहें सावधान

बैंक अधिकारी बन फोन करके एक लिंक डाउनलोड कराया और दो खातों से 58983 निकाल लिए

सोनीपत॥ साइबर क्राइम तेजी से बढता जा रहा है गांव प्रीतमपुर स्थित फेन बेल्ट फैक्टरी के आपरेटर के पास बैंक अधिकारी बनकर फोन करने के बाद एक लिंक डाउनलोड कराया और दो खातों से 58983 रुपये निकाल लिए गए। जब पैसे निकलने का मैसेज आया तो आपरेटर को इसका पता चला। पुलिस को बताया तो पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

गांव प्रीतमपुरा निवासी जितेंद्र राय ने कुंडली थाना पुलिस को बताया कि वह प्रीतमपुरा में फेन बेल्ट की कंपनी में सीनियर आपरेटर के पद पर नियुक्त है। 3 सितंबर को उनके मोबाइल नंबर पर कॉल आई थी। फोन करने वाले ने खुद को बैंक अधिकारी बताते हुए कहा कि वह फरीदाबाद शाखा से बोल रहा है। उसने उसके मोबाइल नंबर पर एक लिंक भेजा और उसे डाउनलोड करने को कहा।

लिंक के डाउनलोड करते ही जितेंद्र के खाते से पैसे निकल गए। उसके खाते में 14000 रुपये थे। जिसमें से 11989 रुपये निकल गए। जब उसे पता लगा तो उसने फोन कर उस व्यक्ति से बात की। उसने उसे कहा कि पैसे गलती से कट गए हैं। उसने किसी दूसरे बैंक खाते के बारे में पूछा। उसने उसके दूसरे खाते में रजिस्ट्रड मोबाइल नंबर पूछ लिया।

उसने खाता नंबर तक नहीं पूछा। उसके बावजूद मोबाइल नंबर बताते ही उसके दूसरे खाते से एक बार में 20000 रुपये व दूसरी बार में 24999 रुपये निकल गए। तब उसने तुरंत अपने एटीएम को ब्लाक कराया। उसने मामले की शिकायत कुंडली थाना पुलिस को दी। कुंडली थाना पुलिस ने जांच के बाद अज्ञात के खिलाफ खाते से धोखाधड़ी कर 56988 रुपये निकालने का मुकदमा दर्ज कर लिया।
जितेंद्र ने बताया कि बाद में उसे पता लगा कि फरीदाबाद वाले खाते से 1995 रुपये और निकाले गए है। उसके खाते से 58983 रुपये निकल गए। उसने बताया कि उसके रसोई गांव स्थित खाते में 1.84 लाख रुपये थे। थाना कुंडली जांच अधिकारी सुरेंद्र सिंह ने बताया कि व्यक्ति के खाते में लिंक डाउनलोड कराने के बाद नकदी निकालने की शिकायत मिली है। जिस पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले की गहनता से जांच की जा रही है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *