शौच के लिए जा रही युवती से गैंग रेप का प्रयास, पीड़िता ने ऐसे बचाया खुद को

शौच के लिए जा रही युवती के साथ डुमरी थाना क्षेत्र के दो अलग-अलग गांव के तीन युवकों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम देने का प्रयास किया।

गिरिडीह॥ शौच के लिए जा रही युवती के साथ डुमरी थाना क्षेत्र के दो अलग-अलग गांव के तीन युवकों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम देने का प्रयास किया। यहीं नहीं पीड़िता मामले की शिकायत नहीं कर सकें। इसके लिए इनमें से दो युवकों ने युवती को कुछ घंटे के लिए अगवा कर गिरिडीह-डुमरी रोड के बराकर नदी के समीप कई घंटे तक अपने कब्जे में रखा।

Rape

वहीं डुमरी थाना पुलिस ने पीड़िता के दिए आवेदन के आधार पर केस दर्ज करने से भी इंकार कर दिया। इंकार किए जाने का कारण पूछने पर पीड़िता ने बताया कि तीनों में से एक आरोपी बबलू रजक है और वह खुद्दीसार पंचायत के मुखिया अनिल रजक का भतीजा है। पीड़िता ने बताया कि बुधवार की देर शाम वह शौच के लिए घर के समीप खेत जा रही थी।

इसी दौरान तीनों आरोपी बबलू रजक, संतोष यादव और सचिन वर्मा उसके घर के कुछ दूर बैठे थे। जब पीड़िता खेत के समीप पहुंची तो दो आरोपी युवकों ने उसे पीछे से पकड़ कर छेड़खानी करते हुए रेप करने का प्रयास करने लगे। इसी बीच वह मदद के लिए चिल्लाई तो उसकी आवाज सुनकर स्थानीय लोग मौके पर पहुंच गये।

लोगों को आते देख संतोष और सचिन भाग गये। लेकिन बबलू रजक को स्थानीय लोगों ने पकड़ लिया और उसकी जमकर पीटाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया। इधर, लोगों के जुटने के बाद युवती वहां से घर के लिए भागी। लेकिन संतोष और सचिन स्कूटी लिए बीच रास्ते में खड़े थे।

युवती को दोनों आरोपी युवक जबरन अपने साथ स्कूटी से बराकर नदी ले गए और देर रात तक अपने कब्जे में रखा। दोनों आरोपी युवती को पुलिस के पास जाने पर धमकी देते हुए कहा कि पुलिस के पास जाने पर उसके साथ दुष्कर्म किया जाएगा। अहले सुबह संतोष और सचिन नदी के समीप युवती को छोड़कर चले गये।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *