5AC423FB902F99F7B04A6C0E44CE75FA

हैदराबाद गैंगरेप: घटना के दो दिन पहले ही सीज हो जाता ट्रक, लेकिन ऐसे बचा था मुख्य आरोपी

हैदराबाद में हुई रेप की घटना के बाद पूरे देश में इसको लेकर आक्रोश है, सभी तरफ लोग आरोपियों को जान से मरने और फांसी जैसी सजा की मांग कर रहे हैं वहीं पुलिस ने इस मामले में अब तक चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है और उनसे पूछताछ में नए खुलासे हो रहे हैं. पुलिस पूछताछ में यह बात सामने आई है कि गैंगरेप का मुख्य आरोपी मोहम्मद आरिफ बगैर लाइसेंस के पिछले दो साल से ट्रक चला रहा था. साथ ही घटना से 2 दिन पहले ही उसे पुलिस के चेकिंग के दौरान पकड़ा भी गया था.

सवाल ये उठता है कि जब वो पिछले दो साल से बिना लाइसेंस का ट्रक चला रहा था, ऐसे में उसपर कोई कार्यवाई क्यों नहीं की गई. हालांकि सवाल तो सरकारों पर भी उठता है कि लड़कियों की सुरक्षा को लेकर अभी तक कोई कदम क्यों नहीं उठाया गया.

चंद्रयान परियोजना की तैयारी शुरू, संसद से सरकार ने 75 करोड़ रुपये आवंटित करने की मांगी मंजूरी

दरअसल, जब गैंगरेप का मुख्य आरोपी आरिफ पकड़ा गया तो उसने कई राज़ खोले। बता दें कि पेशे से ट्रक डाइवर है जिसकी उम्र 26 साल बताई जा रही है. रिमांड रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि आरिफ को तेलंगाना रोड ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी ने 24 नवंबर को महबूब नगर इलाके में वाहन चेकिंग के दौरान पकड़ लिया था. आरिफ जो ट्रक चला रहा था उसके वैध दस्तावेज नहीं थे और बाद में यही ट्रक वारदात में इस्तेमाल किया गया.

वहीं जानकारी के मुताबिक साल 2017 से ही आरोपी आरिफ बगैर वैध कागजात के यह ट्रक चला रहा था. घटना से दो दिन पहले आरिफ का ट्रक ईंटों से लदा हुआ था और इसमें नियमों से ज्यादा माल धुलाई की जा रही थी. ट्रक को RTO के अधिकारियों ने कर्नाटक से हैदराबाद के बीच महबूबनगर इलाके में पकड़ा था. लेकिन बाद में इस ट्रक को छोड़ दिया गया था.

Loading...

परिवहन अधिकारी शुरू में इस ट्रक को जब्त करना चाहते थे लेकिन फिर आरिफ ने अपने मालिक श्रीनिवास रेड्डी से फोन पर बात की और उसके कहने पर ही आरिफ ने ट्रक के इंजन से तार निकाल दिए. इसके बाद उसने अफसरों को ट्रक में खराबी आने की बात कही, अफसर भी अब ट्रक को सीज कर अपने साथ ले जाने में असमर्थ थे और उन्हें ट्रक छोड़ के जाना पड़ा.

वहां से अफसरों के जाने के बाद आरिफ इस ट्रक को महबूबनगर के पेट्रोल पंप पर ले गया जहां उसने ट्रक पर अपने दोस्त नवीन कुमार और चेन्ना केशवल्लु को बुलाया जो कि गैंगरेप की वारदात में शामिल थे. अब पुलिस शमसाबाद निवासी ट्रक मालिक रेड्डी के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने जा रही है.

गौरतलब है कि हैदराबाद के पास साइबराबाद में बुधवार को महिला डॉक्टर के साथ गैंगरेप और फिर हत्या के मामले से देशभर में आक्रोश है. हैवानों ने पहले डॉक्टर का रेप किया और फिर हत्या कर शव को जला दिया. पुलिस के मुताबिक 27 नवंबर की रात को महिला डॉक्टर को ट्रक ड्राइवर और उसके साथियों ने अगवा किया था.

पुलिस के मुताबिक, आरोपी पहले पीड़िता को सुनसान जगह पर ले गए और उसे जबरन शराब पिलाई . गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया. एक आरोपी ने मुंह और नाक दबाकर पीड़िता की जान ली और फिर पेट्रोल डालकर उसका शव जला दिया. शव के पास ही पीड़िता का फोन, घड़ी सब छिपा दिया.

Loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com