शहादत का बदला : भारत की पाकिस्तान पर बड़ी कार्रवाई, लगा लाशों का ढेर

पाकिस्तान की सेना ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर की नियंत्रण रेखा पर शनिवार को सुबह बिना किसी उकसावे के गोलाबारी की।पाकिस्तान ने भारतीय चौकियों तथा रिहायशी इलाकों को निशाना बनाते हुए भारी गोलीबारी करने के साथ ही मोर्टार के गोले भी दागे।

नई दिल्ली। पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी में शनिवार को शहीद हुए दो भारतीय जवानों की मौत का बदला भारतीय सेना की मराठा रेजिमेंट के जवानों ने लिया है। पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) के खुरीरत्ता सेक्टर में शिवाजी महाराज के जयकारों के साथ जबरदस्त कार्रवाई करके 4 आतंकी लांचिंग पैड और एलओसी पर पाकिस्तानी सेना की एक चौकी तबाह कर दी।
pakistan
भारत की इस जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के कई जवान मारे गए हैं जबकि करीब आधा दर्जन सैनिक भी हताहत हुए हैं। इसके बावजूद पाकिस्तान ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में रविवार को सुबह लगभग 11:15 बजे संघर्ष विराम का उल्लंघन करके नियंत्रण रेखा पर छोटे हथियारों गोलीबारी की व मोर्टार शैल दागे। भारतीय सेना जवाबी कार्रवाई कर रही है।
पाकिस्तान की सेना ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर की नियंत्रण रेखा पर शनिवार को सुबह बिना किसी उकसावे के गोलाबारी की।पाकिस्तान ने भारतीय चौकियों तथा रिहायशी इलाकों को निशाना बनाते हुए भारी गोलीबारी करने के साथ ही मोर्टार के गोले भी दागे। इस गोलीबारी में 3 नागरिक घायल हो गये।
खबर के मुताबिक पाकिस्तान की गोलाबारी में भारतीय सेना के दो जवान गम्भीर रूप से घायल हो गए। सभी घायलों को तुरंत सैन्य अस्पताल पहुंचाया गया, जहां पर उपचार के दौरान मराठा रेजिमेंट के हवलदार पाटिल संग्राम शिवाजी ने घावों का ताव न सहते हुए दम तोड़ दिया। दूसरे घायल नायक रैंक के जवान कुलदीप जाधव भी उपचार के दौरान देर रात शहीद हो गए।
भारतीय जवानों ने भी पाकिस्तानी गोलाबारी का जवाब दिया लेकिन पाकिस्तान ने शनिवार को शाम 6 बजे के करीब फिर राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। इसके बाद शाम करीब 6:15 बजे पुंछ के डीगवार, मालती और दल्लन इलाकों में नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया।
भारतीय जवानों ने भी पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। दोनों तरफ से गोलीबारी होने के बाद भारतीय सेना ने रात को निर्देशित गोला-बारूद की मदद से पाक अधिकृत कश्मीर के खुरीरत्ता सेक्टर में आतंकवादी लॉन्च पैड पर पिन प्वाइंट हमले किये।
इस कार्रवाई में कम से कम 4 आतंकवादी लांचिंग पैड नष्ट हुए। इसके अलावा नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारतीय सेना की कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना की चौकी भी तबाह हुई। भारत की इस जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के कई जवान मारे गए हैं जबकि करीब आधा दर्जन सैनिक भी हताहत हुए हैं।
आतंकियों की घुसपैठ नाकाम रहने व उनके मारे जाने से पाकिस्तान पूरी तरह बौखलाया हुआ है। जम्मू संभाग में अंतरराष्ट्रीय सीमा व नियंत्रण रेखा पर लगातार गोलीबारी करने के साथ ही भारतीय क्षेत्र में अपने ड्रोन भेज रहा है। बीते 36 घंटों के दौरान भारतीय सीमा में चार बार पाकिस्तानी ड्रोन घुसे और वापस चले गए।
शनिवार को पुंछ जिले की मेंढर तहसील के बसूनी गोल्द गांव में एक ड्रोन को देखा गया था जो भारतीय क्षेत्र में काफी भीतर तक आ गया था। अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कठुआ जिले के सीमावर्ती रामगढ़ इलाके में भी पाकिस्तानी ड्रोन 300 से 500 मीटर तक अंदर घुस आया था।
शुक्रवार को सांबा सेक्टर के सीमावर्ती गांव चक्क फकीरा में भी पाकिस्तानी ड्रोन की मूवमेंट देखी गई थी। पाकिस्तान ने राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में रविवार को सुबह लगभग 11:15 बजे संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है। भारतीय सेना जवाबी कार्रवाई कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *